Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

तेज़ गेंद फेंकने में शोएब अख्तर को टक्कर दे रहा है भारत के ये गेंदबाज़

प्रेम पाठक

भारतीय तेज गेंदबाज उमरान मलिक की रफ्तार का हर कोई कायल होता जा रहा है। दुनिया भर के दिग्गज उनकी चर्चा कर रहे हैं। कई लोगों का ये भी मानना ​​है कि अगर वो इसी तरह अपनी स्पीड बढ़ाते रहे तो शोएब अख्तर का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।

रावलपिंडी एक्सप्रेस शोएब अख्तर से जब भारतीय सनसनी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने शुरू में कहा कि उन्हें खुशी होगी कि उमर इस रिकॉर्ड को तोड़ेंगे। लेकिन उन्होंने उन्हें ताना मारने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

शोएब अख्तर ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘मेरे वर्ल्ड रिकॉर्ड को 20 साल से ज्यादा हो गए हैं। जब लोग मुझसे इस बारे में पूछते हैं तो मुझे भी लगता है कि कोई तो होगा जो इस रिकॉर्ड को तोड़ देगा। मुझे खुशी होगी कि उमरान ने मेरा रिकॉर्ड तोड़ा। हाँ, लेकिन वह मेरा रिकॉर्ड तोड़ते हुए अपनी हड्डियाँ न तुड़वा लें। यही मेरी एकमात्र प्रार्थना होगी।

शोएब अख्तर के नाम 161.3 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है। वहीं, उमरान मलिक इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में दूसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं। उन्होंने हाल ही में एक मैच में 157 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की, जो आईपीएल में दूसरा सबसे तेज गेंदबाज था।

इतना ही नहीं उमरान सिर्फ एक साइड में 155+ रन की लगातार गेंदबाजी कर सकते हैं। यही वजह है कि रवि शास्त्री से लेकर हरभजन सिंह तक उमरान को भारतीय टीम में शामिल करने की पैरवी कर रहे हैं। हालांकि, सभी का मानना ​​है कि उमरान को अब अपने कौशल पर काम करने की जरूरत है।