Breaking :
||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति||धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई||चाईबासा: IED ब्लास्ट में एक बार फिर तीन जवान घायल, एयरलिफ्ट कर लाया गया रांची||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, 17 फरवरी को होनी थी शादी||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन

गुमला में पति की दरिंदगी, पत्नी को टांगी से काटकर मार डाला

गुमला : जिले के पालकोट प्रखंड क्षेत्र के बगरू गांव में सोमवार को पति राजेंद्र बदाइक ने पत्नी अनुराधा देवी (30 वर्ष) की टांगी से काट कर हत्या कर दी। वह चार बच्चों की मां थी। उसके मासूम बच्चे पढ़ने के लिए स्कूल गए थे, घर में कोई नहीं था। किसी को भनक तक नहीं लगी। राजेंद्र बड़ाइक शराब पीकर घर पहुंचा। दरवाजा बंद किया। इसके बाद उसने पत्नी पर टांगी से हमला किया और मरते दम तक टांगी से वार करता रहा।

हत्या के बाद राजेंद्र बड़ाइक ने घर का दरवाजा बाहर से बंद कर लिया। इसके बाद वह चुपचाप घर से भाग गया। रास्ते में ग्रामीणों ने उसकी हालत देखकर सवाल किया तो उसने कहा कि मैं बकरी को काट कर आ रहा हूं। गांव वालों ने उसकी बात मान ली और राजेंद्र बड़ाइक फरार हो गया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

वह पेशे से राजमिस्त्री का काम करता है। कहा जा रहा है कि घरेलू विवाद के चलते उसने पत्नी की हत्या कर दी। लेकिन इस बात का खुलासा नहीं हुआ है कि किस बात को लेकर घरेलू विवाद था।

ग्रामीणों के मुताबिक राजेंद्र बड़ाइक हमेशा शराब का सेवन करता था। उसे अक्सर नशे में देखा जाता था। घटना के दिन वह शराब भी पी रहा था। उसके बच्चे स्कूल से घर लौटे तो देखा कि दरवाजा बाहर से बंद था। जब उसने दरवाजा खोला तो घर के अंदर गया तो उसने देखा कि मां खून से लथपथ पड़ी है। उनकी मृत्यु हो गई थी। बच्चे रोने लगे। उसकी आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीण वहां पहुंचे और घर का नजारा देखकर दंग रह गए।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बच्चों ने बताया कि रविवार रात को काफी मारपीट हुई थी। पिता ने मां को जमकर पीटा था। माँ बहुत दुखी और परेशान थी। बच्चों को इस बात की जानकारी नहीं है कि इसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। मारपीट के बाद दोनों शांत हो गए। हर दिन की तरह सोमवार की सुबह भी बच्चे पढ़ने के लिए स्कूल गए थे। घर पर माँ और पिता थे। स्कूल जाने के बाद वह फिर घर से बाहर चला गया। वह शराब पीकर घर लौटा और अपनी मां को टांगी से काटकर मार डाला।

घटना की जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल ले गई। राजेंद्र बदाइक घर से फरार है। पुलिस अब उसकी तलाश कर रही है। वह अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं है।

पुलिस का कहना है कि गिरफ्तारी के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि उसने हत्या की है। पुलिस संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मृतक राधा देवी चार बच्चों की मां थी। बड़ी बेटी प्रियंका 10 साल की है, दूसरी बेटी रागनी 8 साल की है, तीसरा बेटा अतुल 6 साल का है और चौथा बेटा आदित्य 4 साल का है।

मां की मौत के बाद चारों बच्चे अनाथ हो गए हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि उनकी देखभाल कौन करेगा। इन बच्चों की हालत खराब है। पड़ोसी बच्चों की मदद कर रहे हैं। इस शर्मनाक घटना को देख हर कोई आहत है।