Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

रांची: डबल मर्डर का खुलासा, भाई-बहन की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

रांची : पंडरा थाना क्षेत्र के जनकनगर में 18 जून को रांची पुलिस ने भाई-बहन की हत्या के मामले का खुलासा किया है। पुलिस ने घटना में शामिल मुख्य आरोपी अर्पित को गिरफ्तार कर लिया है।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

सिटी एसपी अंशुमान कुमार ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि श्वेता और अर्पित के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। अर्पित हमेशा रात में छत पर श्वेता से मिलता था। बाद में श्वेता की मां चंदा देवी को पता चला कि अर्पित को बेटी से प्यार हो गया है। इस पर चंदा देवी ने मना कर दिया, लेकिन श्वेता नहीं मानी और गुप्त रूप से अर्पित से मिलने लगी।

बताया कि 18 जून की रात अर्पित श्वेता से मिलने उसके घर गया था। दोनों सीढ़ी के नीचे थे। इसी बीच श्वेता की मां चंदा देवी ने उठकर दरवाजा खोला और स्कूटी निकाली। उसके बाद जब वह अंदर प्रवेश कर रही थी तो अर्पित और श्वेता दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में देखा।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस पर चंदा देवी ने अर्पित को पकड़ लिया और उसकी पिटाई करने लगी। अर्पित ने गुस्से में आकर सब्जी काटने वाले चाकू से श्वेता की मां चंदा देवी की गर्दन पर तीन-चार बार वार किया। चाकू टूटने के बाद उसने सिर पर हथौड़े से वार कर दिया।

आवाज सुनकर श्वेता का छोटा भाई प्रवीण उठकर मां को बचाने आया तो अर्पित ने भी उसके सिर पर हथौड़े से वार कर दिया। जिस पर ओम वहीं गिर पड़ा। यह सब देख श्वेता ने विरोध करना शुरू कर दिया। तो अर्पित ने भी उसके सिर पर तीन-चार हथौड़े से वार किया। जिससे श्वेता वहीं गिर पड़ी। इसके बाद अर्पित घर के पीछे से छत के रास्ते भाग गया। घटना में भाई-बहन की मौत हो गई थी, जबकि उनकी मां को गंभीर हालत में रिम्स में भर्ती कराया गया थी।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इतने लोगों की जान लेने के बाद आरोपी अर्पित ट्रेन से बिलासपुर, विशाखापत्तनम, भागलपुर से पटना पहुंचा जहां रांची पुलिस ने उसे फतुवा से गिरफ्तार कर लिया।

उन्होंने कहा कि मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। जिसमें 3 डीएसपी समेत अन्य पुलिसकर्मी शामिल थे। उन्होंने कहा कि यह टीम छत्तीसगढ़ के बिलासपुर, आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम और बिहार भी गई थी।