Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

रांची में भी अग्निपथ योजना का युवाओं ने किया विरोध, एक घंटे मेन रोड जाम

रांची : सेना में अग्निपथ योजना के तहत संविदा पर चार साल की नौकरी का गुरुवार को रांची में युवाओं ने जमकर विरोध किया। मेन रोड स्थित सैनिकभर्ती कार्यालय के पास बड़ी संख्या में युवाओं ने प्रदर्शन किया और करीब एक घंटे तक में रोड जाम रखा।

डीएसपी जीतवाहन उरांव और चुटिया थाना की टीम ने काफी देर युवाओं को समझाया, इसके बाद युवा वहां से हटे। मेन रोड से निकलकर युवा रांची रेलवे स्टेशन के पास जमा हुए। सभी रेलवे पटरी जाम करना चाहते थे, लेकिन यहां पुलिस ने उन्हें समझा कर मामला शांत करा दिया।

युवाओं का कहना है कि 2020 में भर्ती के लिए फिजिकल और मेडिकल पास करनेवाले युवाओं की परीक्षा ली जानी चाहिए। नई बहाली प्रक्रिया के तहत अगले वर्ष नियुक्ति की प्रक्रिया होनी चाहिए। युवाओं ने कहा कि 2020 में उन्होंने फिजिकल और मेडिकल पास किया था। अब परीक्षा ली जानी थी, लेकिन कोरोना के कारण परीक्षा स्थगित कर दी गई और अब पुरानी नियुक्ति प्रक्रिया को ही रद्द कर दिया गया। ऐसे में कई की उम्र 21 साल से अधिक हो जाने के बाद वह अब सेना भर्ती के उम्मीदवार नहीं बन पाएंगे।

रांची की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

गिरिडीह में युवाओं का प्रदर्शन

गिरिडीह के झंडा मैदान में अग्निवीरों की बहाली के विरोध में युवाओं ने प्रदर्शन किया। इस दौरान युवाओं ने कहा कि केवल चार साल की नौकरी कर वर अपना भविष्य चौपट करना नहीं चाहते।

अग्निपथ योजना रांची