Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में बोलेरो ने बाइक में पीछे से मारी टक्कर, दो IRB जवान समेत चार घायल, दो रिम्स रेफर, सड़क जाम||पलामू में ट्रक ने झामुमो नेता के रिश्तेदार को रौंदा||झारखंड में बड़ा सड़क हादसा, तीन की मौत, सात घायल||झारखंड में लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 65.40 फीसदी वोटिंग, गिरिडीह और धनबाद में महिलाएं तो रांची और जमशेदपुर में पुरुषों ने मारी बाजी||बड़ी घटना को अंजाम देने आये अमन साहू गिरोह के चार शूटर चढ़े पुलिस के हत्थे||प्रेमी ने शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण, धोखा बर्दाश्त नहीं कर पायी प्रेमिका, की जान देने की कोशिश, मामला दर्ज||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर 62.13 फीसदी वोटिंग, सबसे अधिक जमशेदपुर, सबसे कम रांची में मतदान||झारखंड में कल से दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘रेमल’ का असर, लातेहार, गढ़वा, पलामू व चतरा जिले में भी असर||लातेहार: दुकान में चोरी करने आये तीन चोर आग में झुलसे, एक की मौत, दो गंभीर||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला
Monday, May 27, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

रांची एयरपोर्ट पर ओवैसी के स्वागत में खड़ी भीड़ ने लगाए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

रांची : राजधानी के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के स्वागत में उमड़ी भीड़ ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। ओवैसी के विमान के एयरपोर्ट पर उतरने की सूचना मिलते ही वहां मौजूद लोग पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने लगे।

इस घटना से एयरपोर्ट के बाहर कुछ देर के लिए असहज स्थिति पैदा हो गई, पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे सुनते ही पार्टी के सदस्यों और स्थानीय पुलिस ने भीड़ को शांत करना शुरू कर दिया। हालांकि ओवैसी के आने से पहले लोगों को शांत किया गया। दरअसल ओवैसी बीजेपी से निलंबित देव कुमार धान की चुनावी सभा को संबोधित करने रांची पहुंचे हैं। धान एआईएमआईएम प्रत्याशी के तौर पर मांदर से उपचुनाव लड़ रहे हैं।

रांची हिंसा में मारे गए युवकों के परिजनों से मिलने से पुलिस ने रोका

वहीं, रांची पहुंचकर ओवैसी 10 जून को हुई हिंसा में मारे गए दोनों युवकों के परिजनों से मिलने जा रहे थे, लेकिन प्रशासन ने अनुमति नहीं दी।

सरकार और बीजेपी को घटना का ठहराया जिम्मेवार

10 जून को रांची में हुई हिंसा को लेकर AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने झारखंड सरकार और बीजेपी दोनों पर निशाना साधा है। बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी पहले ही नुपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई करती तो रांची में ऐसी घटना नहीं होती। उन्होंने दो युवकों की मौत के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि जिस तरह से निहत्थे युवकों को गोली मारी गई वह दुर्भाग्यपूर्ण है। राज्य सरकार को पीड़ित परिवार का ख्याल रखना चाहिए।

रांची की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें