Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: सिंचाई विभाग के जर्जर क्वार्टर पर लोगों का अवैध कब्जा, कभी हो सकता है बड़ा हादसा

पप्पू कुमार/मेदिनीनगर

मेदिनीनगर : सिंचाई विभाग का कॉलोनी स्थानीय एफसीआई गोदाम के बगल में है जिसकी हालत बेहद जर्जर है। वह कभी भी गिर सकता है। सिंचाई विभाग ने इसे जीर्ण-शीर्ण घोषित कर दिया है। साथ ही लोगों को क्वार्टर से बाहर निकलने का नोटिस भी जारी किया गया है। इसके बाद भी लोग क्वार्टर छोड़ना नहीं चाहते।

नोटिस से पहले ही क्वार्टर जर्जर होने के कारण विभागीय कर्मचारी उस क्वार्टर को छोड़कर किराए के मकान में चले गए हैं या फिर अपना घर बनाकर रह रहे हैं। वहीं, उनकी जगह ऐसे लोगों ने उस क्वार्टर पर अवैध कब्जा कर रखा है। जो न तो सिंचाई विभाग के कर्मचारी हैं और न ही किसी अन्य विभाग में कार्यरत हैं। फिर भी, उन्होंने अपने अधिकारों का दावा करने के डर के बिना उस क्वार्टर पर अवैध कब्जा कर लिया है। इसके साथ ही क्वार्टर में रहने वाले लोग अंधाधुंध बिजली चोरी कर हीटर, कूलर पंखे, टीबी व अन्य सामान का इस्तेमाल कर रहे हैं।

पलामू की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

न तो बिजली विभाग इन लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई कर रहा है और न ही सिंचाई विभाग के अधिकारी और कर्मियों द्वारा कोई कार्रवाई की जा रही है। कुछ दिन पूर्व सिंचाई विभाग की ओर से क्वार्टर में रहने वाले लोगों को क्वार्टर खाली करने का नोटिस भी दिया गया था। इसके बाद भी क्वार्टर में रहने वाले लोग क्वार्टर खाली करने को तैयार नहीं हैं।

स्थानीय लोगों ने बताया कि क्वार्टर में रहने वाले लोग अंधाधुंध बिजली और पानी का इस्तेमाल कर रहे हैं। कॉलोनी में लोग अवैध कब्जे में रह रहे हैं। यहां बिजली चोरी भी धड़ल्ले से हो रही है। लोग बिजली विभाग को चुना लगा रहे हैं इसके बाद भी विभाग व प्रशासन मौन है। यदि क्वार्टर गिरने के कारण कोई अप्रिय घटना होती है तो इसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।

advt