Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
पलामूलातेहार

पलामू व्याघ्र परियोजना के लातेहार-गारू-सरयू के सीमावर्ती इलाके में बाघ होने की पुष्टि

पलामू : पलामू व्याघ्र परियोजना के लातेहार-गारू-सरयू के सीमावर्ती इलाके में एक और बाघ होने की पुष्टि हुई है। बाघ की पुष्टि होने के बाद पीटीआर इलाके में वनकर्मियों ने निगरानी बढ़ा दी है। इससे पहले भी पीटीआर में बाघ की मौजूदगी की पुष्टि हो चुकी है। इसके बाद अब वन्यजीव संस्थान ने पलामू व्याघ्र परियोजना में दो बाघों की मौजूदगी की पुष्टि की है। जबकि 2018 में पलामू व्याघ्र परियोजना क्षेत्र में बाघों की संख्या शून्य बताई गई थी।

पलामू व्याघ्र परियोजना के निदेशक कुमार आशुतोष ने बताया कि पीटीआर की एक टीम ट्रेनिंग के लिए दिल्ली गई थी। इसी टीम को वन्यजीव संस्थान ने पीटीआर क्षेत्र में दो बाघ होने की पुष्टि की है।

निदेशक ने बताया कि दो बाघ होने के साथ ही नौ तेंदुओं की भी पुष्टि हुई है। इससे पहले दिसंबर-जनवरी के महीने में पीटीआर में एक बाघ की पुष्टि हुई थी, अब जुलाई के महीने में पीटीआर क्षेत्र में एक और बाघ होने के प्रमाण मिले हैं। दूसरा बाघ के लातेहार गारू सरयू के सीमावर्ती इलाके में है। टाइगर के स्कैट की जांच के आधार पर पीटीआर क्षेत्र में एक और बाघ की पुष्टि हुई है।