Breaking :
||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी

बाइक के धक्के से युवक की मौत, मुआवजे की मांग को लेकर चार घंटे सड़क जाम

संजय राम/बारियातू

लातेहार : जिले के बरियातू टीओपी अंतर्गत टोंटी पंचायत के मंधनिया निवासी सुरेंद्र उरांव (32) की सोमवार की रात बाइक की चपेट में आने से मौत हो गयी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक इटके गांव से जिउतिया का जतरा मेला देख पैदल घर लौट रहा था। इसी बीच चरकी टोंगरी सरहचवा के पास संतोष यादव नाम के युवक ने बाइक से धक्का मार दिया। घटना के बाद आसपास के ग्रामीणों की मदद से उसे बालूमाथ अस्पताल ले जाया गया। जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने मंगलवार सुबह छह बजे से शव लेकर बरियातू टंडवा जाने वाले मुख्य मार्ग को चार घंटे तक जाम कर दिया।

सड़क जाम की सूचना मिलते ही टीओपी प्रभारी कुंदन कुमार सदलबल जाम स्थल पर पहुंचे. सड़क जाम करने वाले ग्रामीण महिलाओं व पुरुषों को बहुत कुछ समझाएं कि सड़क जाम हटाया जाए। पर आक्रोशित ग्रामीण नौकरी, मुवावजे व बाइक से धक्का मारने वाले व्यक्ति के गिरफ्तारी की मांग करने लगे। साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्बुलेंस की व्यवस्था कराने पर अड़े रहे।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर, सड़क जाम की सूचना मिलने पर बीडीओ सह सीओ दीपाली भगत भी जाम स्थल पहुंचे। जाम कर रहे ग्रामीणों व मृतक के परिजनों से बातचीत करते हुए कहा कि सरकारी प्रावधान के अनुसार सहयोग किया जाएगा। मृतक की पत्नी को पारिवारिक लाभ के तहत आवास, पेंशन अविलंब स्वीकृत की जाएगी।

इसके बाद ग्रामीणों ने बच्चों की पढ़ाई व मृतक की पत्नी को आंगनबाड़ी में रसोइया व पंचायत सचिवालय में झाड़ू पोछा करने को दैनिक मानदेय पर रखने की मांग की। जिसपर बीडीओ ने कहा कि बच्चियां झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय में पढ़ने योग्य हो जाएंगे तो उनका नामांकन भी करा दिया जाएगा। मृतक अपने पीछे पत्नी सुनीता, पुत्र प्रकाश उरांव, पुत्री पूजा कुमारी, सोनाली कुमारी छोड़ गया। जिनका रोते रोते बुरा हाल है।