Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

पलामू: प्रेमी के लिए महिला ने कर दी पति की हत्या, पहले पति को छोड़ की थी दूसरी शादी

पलामू : पहले पति को छोड़ा, फिर प्रेमी को पाने के लिए पति की बेरहमी से हत्या कर दी। पलामू पुलिस ने हत्या के आरोपी पत्नी राधिका देवी और उसके प्रेमी एजाज उर्फ ​​सनी को गिरफ्तार कर लिया है। राधिका पर हत्या का आरोप लगाया गया है जबकि एजाज को हत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

राधिका देवी पर पति रवींद्र सिंह को प्रताड़ित करने और मारने का आरोप लगा है। मंगलवार को खबर आई थी कि राधिका देवी ने अपने पति रवींद्र सिंह को गर्म दूध से जलाकर मार डाला था, लेकिन पूरे मामले की छानबीन करने पर पुलिस को कई चौंकाने वाली जानकारी मिली. जिसके बाद राधिका और उसके प्रेमी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

शहर थाना प्रभारी अरुण कुमार महथा ने बताया कि दोनों के बीच एक साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। एजाज शादी करना चाहता था लेकिन राधिका ने उसे रोक दिया। इस दौरान दोनों के बीच समझौता हो गया कि रवींद्र सिंह को रास्ते से हटाना है।

पुलिस की पड़ताल में यह बात सामने आई है कि राधिका देवी ने सबसे पहले अपने शराबी पति पर उबलता दूध डाला। इसके बाद घर में मौजूद कपड़े से उसका गला घोंट दिया। पति को मरा समझकर राधिका देवी ने उसे कमरे में छोड़ दिया। रवीन्द्र सिंह रात भर कमरे में पड़ा रहा, उसकी पत्नी राधिका को लगा कि उसका पति मर गया है।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

सुबह रवींद्र सिंह को होश आया तो वह रोने लगा। जिसके बाद पड़ोसी उसके घर पहुंच गए। पड़ोसियों के आने के बाद राधिका देवी लोक लाज अपने पति को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में ले गईं, लेकिन निजी अस्पताल ने उसे कहीं और ले जाने को कहा।

जिसके बाद राधिका देवी अपने पति रवींद्र सिंह को एमएमसीएच ले गईं, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. एमएमसीएच के डॉक्टरों के मुताबिक रवींद्र सिंह का गला टूटा है, घर से अस्पताल ले जाने के क्रम में रवींद्र सिंह को फिर से गला घोंट दिया गया।

एक साल पहले 26 वर्षीय राधिका देवी ने 55 वर्षीय रवींद्र सिंह के साथ प्रेम विवाह किया था। इससे पहले राधिका देवी की शादी गढ़वा के रंका निवासी मोहन राम से हुई थी। मोहन राम एक ईंट भट्ठे में काम करता था, जिसके चलते राधिका ने उसे छोड़ दिया। मोहन और राधिका के तीन बच्चे भी थे, जो वर्तमान में मोहन के साथ रहते हैं। राधिका के दूसरे पति रवींद्र सिंह उन्हें ढेर सारे जेवर दिया करते थे। घर से भारी मात्रा में जेवर बरामद हुए हैं।

रवींद्र सिंह को उनकी चाची ने पाला था, उनके माता-पिता का बचपन में ही निधन हो गया था। घरवालों ने भी राधिका से शादी का विरोध किया। रवींद्र सिंह परिवार को छोड़ राधिका के साथ मेदिनीनगर के हमीदगंज में किराए के मकान में रहता था। उर्स मेले में राधिका और एजाज एक दूसरे के संपर्क में आए थे। जिसके बाद दोनों के बीच प्रेम संबंध स्थापित हो गए, दोनों ने एक साल तक शारीरिक संबंध भी बनाए।