Breaking :
||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति

लातेहार: कब्रिस्तान की घेराबंदी के नाम पर राशि की निकासी, उपायुक्त से जांच की मांग

रुपेश कुमार अग्रवाल/लातेहार

लातेहार : जिले के हेरहंज प्रखंड के चिरू पंचायत के ग्राम बिजरा में एकीकृत आदिवासी विकास अभिकरण एवं कल्याण विभाग द्वारा बिना कब्रिस्तान की घेराबंदी किये निर्माण के लिये राशि की निकासी करने का मामला सामने आया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मामले को लेकर मंगलवार को हेरहंज प्रखंड के कई ग्रामीण उपायुक्त के जनता दरबार पहुंचे। जहां आवेदन देकर ग्रामीणों ने बिना काम हुए राशि की निकासी का आरोप लगाया। ग्रामीणों ने आवेदन में उपायुक्त से इस योजना की जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है।

ग्रामीणों का कहना है कि पूर्व में यहां कब्रिस्तान की घेराबंदी कर दी गयी है। फिर से उसी कब्रिस्तान की घेराबंदी के लिए 23 लाख 15 हजार 700 रुपये आवंटित कर कब्रिस्तान की घेराबंदी करायी गयी है। ग्रामीणों का आरोप है कि इस योजना में बिना काम कराये राशि निकाल ली गयी है।

ग्रामीणों ने बताया कि बिजरा गांव के किसी भी खतियान में कब्रिस्तान दर्ज नहीं है, इसके बावजूद यहां से 18 लाख 28 हजार 500 रुपये की निकासी कब्रिस्तान की घेराबंदी के नाम पर की गयी।

उपायुक्त को दिये गये आवेदन पर हेरहंज प्रखंड प्रमुख पार्वती कुमारी, उप मुखिया राकेश लोहरा, वार्ड सदस्य मो जलाल, मो मंसूर, मो इस्माइल, मो इस्राफील, मो ताहिर, मो अब्बास व मो यासीन समेत कई ग्रामीणों के हस्ताक्षर थे।