Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Saturday, March 2, 2024
पलामू प्रमंडलमनिकालातेहार

लातेहार: मनिका में अवैध बालू खनन के खिलाफ ग्रामीणों ने खोला मोर्चा, अवैध बालू लदे पांच ट्रैक्टर को पकड़ा

कौशल किशोर पांडेय/मनिका

फर्जी पर्ची पर 200 रुपये प्रति ट्रैक्टर से हो रही थी वसूली

लातेहार : मनिका प्रखंड के रांकीकला पंचायत के उचवावाल गांव में ग्रामीणों ने अवैध बालू उत्खनन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। मंगलवार को ग्रामीण उचवावाल के मुख्य सड़क पर पहुंचे और अवैध रूप से बालू उत्खनन कर ले जा रहे ट्रैक्टर रोक दिया।

ग्रामीणों ने इसकी सूचना डीसी भोर सिंह यादव, डीएमओ आनंद कुमार, रेंजर संजय कुमार और थाना प्रभारी राणा भानू प्रताप सिंह को दी। सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम अमित कुमार तिवारी, अनिल कुमार, सच्चिदानंद एक्का, सुमन कुमार और थाना पुलिस की टीम एसआई राजकुमार तिग्गा, रामप्रताप सिंह ने संयुक्त रूप से छापेमारी की।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके पर पुलिस टीम ने चार बालू लदा ट्रैक्टर और एक बालू अनलोड कर भाग रहे ट्रैक्टर को जब्त किया। पांचों ट्रैक्टर थाना लाया गया।

मौके पर पंसस महेंद्र सिंह ने बताया कि उचवावाल गांव निवासी महावीर परहिया फर्जी तरीके से रसीद काटकर वन भूमि क्षेत्र से बालू का उठाव करवाता है और 200 रूपये प्रति ट्रैक्टर अवैध रूप से वसूली करता है।

वही मथुरा उरांव ने बताया कि इस बारे में थाना को लिखित शिकायत भी दिया है। मौके पर ग्रामीण दिलीप राम, गंगा सिंह, सुरेंद्र सिंह, राजेंद्र सिंह, दिलेश्वर सिंह, नगीना सिंह, मनोज सिंह, सचिन कुमार सिंह समेत दर्जनों ग्रामीण अवैध बालू उत्खनन का भरपूर विरोध कर रहे थे।

ग्रामीणों ने बताया कि महावीर परहिया पूरी तरह से मनमानी कर रहा है और अवैध तरीके से रसीद काटकर 200 रुपए वसूली भी कर रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार पकड़ा गया ट्रैक्टर निर्मल उरांव, विनोद यादव, अर्जुन यादव, अरविंद यादव सभी मानिकडीह चेचेन्धा गांव का और गफ्फार अंसारी नामूदाग गांव का बताया जाता है।

थाना प्रभारी राणा भानु प्रताप सिंह ने बताया कि अरविंद यादव का ट्रैक्टर पुलिस को देखने के बाद बालू अनलोड कर दिया और उसका ड्राइवर भी फरार हो गया बाद में पुलिस उसे थाने ले आयी।

क्या कहते हैं थाना प्रभारी

थाना प्रभारी राणा भानु प्रताप सिंह ने कहा कि पकड़े गये सभी पांच ट्रैक्टर के बारे में वन क्षेत्र पदाधिकारी को जांच प्रतिवेदन के लिए लिखा गया है।

क्या कहते हैं रेंजर

रेंजर संजय कुमार ने कहा कि पकड़े गये सभी अवैध बालू लदे ट्रैक्टर के खिलाफ वन अधिनियम की सुसंगत धारा के तहत कार्रवाई की जायेगी।

बालू का चालान रसीद बना जी का जंजाल

ट्रैक्टर मालिकों के लिए बालू का चालान जी का जंजाल बन गया। प्रशासनिक पदाधिकारी ने महावीर परहिया द्वारा दिया गया चालान को फर्जी बताया। हालांकि बालू चालान रसीद के ऊपर में ग्राम सभा उचवावाल (मनिका) प्राप्ति सह परिचालन स्लिप, पेसा एक्ट 1996 (4) b (।।) अंकित है।

ट्रैक्टर मालिकों ने बताया कि इसी तरह का चालान महावीर परहिया देता है और दो सौ रुपए लेता है। अब प्रश्न उठता है कि चालान सही है या गलत। वाहन मालिकों का कहना है यदि चालान सही है तो पुलिस और वन विभाग की टीम आखिर पकड़ी क्यों। यदि सही नहीं है तो प्रशासनिक अधिकारी को दोषी व्यक्ति पर कार्रवाई करना चाहिए।

Latehar Manika News Today