Breaking :
||बड़ा रेल हादसा: शालीमार से चेन्नई जा रही कोरोमंडल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त, 50 यात्रियों की मौत, 350 से अधिक घायल||पलामू: सतबरवा SBI शाखा में महिला से रुपये उड़ाने वाले संदिग्ध अपराधियों की तस्वीर आयी सामने, सहयोग की अपील||गुमला: मुठभेड़ में मारा गया 2 लाख का इनामी माओवादी एरिया कमांडर लाजिम अंसारी||लातेहार: बालूमाथ में यात्री बस डिवाइडर से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त, महिला समेत दो की मौत||JOB: लातेहार जिले में विशेष भर्ती कैंप का आयोजन, 450 पदों पर प्रशिक्षण के बाद होगी सीधी नियुक्ति||गुमला: शादी समारोह में शामिल होने आयी नाबालिग छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म||लातेहार: चंदवा में फंदे से लटका मिला नवविवाहित जोड़े का शव, एक माह पहले किया था प्रेम विवाह, दो दिन पहले प्रेमी के भाई ने भी कर ली थी ख़ुदकुशी||पलामू: पेड़ से लटका मिला नवविवाहित का शव, दो माह पहले किया था अंतर्जातीय प्रेम विवाह, लातेहार में है मायका||गुमला: सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया दो लाख का इनामी माओवादी राजेश उरांव||पलामू : सतबरवा SBI शाखा में पैसे जमा कराने आयी महिला से अपराधियों ने उड़ाए 84 हजार रुपये, घटना सीसीटीवी में कैद

पलामू: सड़क दुर्घटना में महिला समेत दो की मौत, आधा दर्जन लोग घायल

पलामू : बुधवार को छतरपुर थाना क्षेत्र के चराई कुटिया मोड़ से पाटन जाने वाली सड़क पर केरकी मोड़ के पास एक कमांडर जीप खेत में पलट गई। इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं आधा दर्जन लोग घायल हो गए। मरने वालों में एक महिला और एक युवक शामिल है। बताया जाता है कि जीप सरईडीह से पाटन होते हुए मेदिनीनगर जा रही थी।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस हादसे में नौडिहा बाजार प्रखंड के पंचायत खैरादोहर निवासी अनवर हुसैन की 35 वर्षीय पत्नी रुकसाना खातून की मौके पर ही मौत हो गयी। वह जमीन विवाद मामले की तारीख को लेकर मेदिनीनगर जा रही थी। वहीं, दूसरे मृतक की पहचान सरईडीह पंचायत के हरनी निवासी बिरजू भुइया के 40 वर्षीय पुत्र बिनेशर भुइया के रूप में हुई है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

स्थानीय लोगों ने बताया कि खराब सड़क के कारण गाड़ी धीमी गति से आगे बढ़ रही थी। अचानक नियंत्रण से बाहर हो गया और खेत में पलट गया। पलटने के साथ ही गाड़ी से चिल्लाने की आवाज आने लगी। आवाज सुनकर ग्रामीण दौड़े और जीप को सीधा किया। जीप को सीधा करने के बाद घायलों को तत्काल छतरपुर अनुमंडल अस्पताल भेजा गया। जहां अन्य घायलों का इलाज किया जा रहा है। इधर, मौत की खबर सुनते ही परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।