Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

अभिजीत पावर प्लांट से चोरी का स्क्रैप लेकर भाग रहे दो ऑटो जब्त, एक गिरफ्तार, एक भागने में सफल

लातेहार : लातेहार एसपी अंजनी अंजन को मिली गुप्त सूचना के आधार पर चंदवा पुलिस ने छापेमारी कर चकला गांव से कबाड़ (स्क्रैप) लदे दो ऑटो जब्त किये। दोनों में करीब 9 क्विंटल अवैध कबाड़ लदे हुए थे।

चंदवा थाने के प्रभारी पुलिस निरीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि सूचना के बाद गुरुवार को चकला गांव में छापेमारी की गयी। इस दौरान दो ऑटो तेज रफ्तार में भागते नजर आये। इनमें से एक पैसेंजर ऑटो और दूसरा कार्गो ऑटो था। पुलिस बल द्वारा दोनों का पीछा किया गया, एक ऑटो चालक ऑटो छोड़कर भागने में सफल रहा जबकि दूसरे ऑटो चालक को पुलिस ने पकड़ लिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

गिरफ्तार चालक की पहचान संतोष कुमार गुप्ता पिता उमेश प्रसाद गड़ीलोंग टंडवा जिला चतरा के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि चंदवा थाने के कांड संख्या 137/22 के तहत दोनों ऑटो के चालक व मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दूसरे ऑटो चालक व मालिक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

आपको बता दें कि लाख कोशिशों के बाद भी अर्धनिर्मित अभिजीत पावर प्लांट से स्क्रैप चोरी का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। इन दिनों साइकिल, ऑटो सहित पिकअप व बड़े ट्रकों से भी अवैध रूप से कबाड़ का खेल चल रहा है। पुलिस द्वारा छोटे-मोटे चोरियों को पकड़ा जा रहा है। लेकिन बड़े पैमाने पर कबाड़ का अवैध कारोबार करने वाले अब भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।