Breaking :
||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद||लातेहार में PLFI के दो उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार, ठेकेदारों को फोन पर देते थे धमकी||पलामू: JJMP के सब जोनल कमांडर ने किया सरेंडर, खोले कई चौंकाने वाले राज||लातेहार: अनियंत्रित बोलेरो ने खड़े ट्रक में मारी टक्कर, दो युवकों की मौत, चार की हालत नाजुक||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प

लातेहार: महुआडांड़ अनूप मिंज हत्याकांड का तीसरा आरोपी गिरफ्तार

लातेहार : अनूप मिंज हत्याकांड के फरार आरोपी अतुल बाड़ा को शनिवार को महुआडांड़ थाना प्रभारी आशुतोष यादव के नेतृत्व में गिरफ्तार कर लातेहार जेल भेज दिया गया।

क्या था मामला

बुधवार 30 नवंबर को महुआडांड़ थाना क्षेत्र के कुरुंद गांव से पुलिस ने एक दबे युवक का शव कब्र से निकलवाया, जिसकी पहचान अनूप मिंज उम्र 25 वर्ष ग्राम परकला जिला गुमला के रूप में हुई। वह कुंरूद गांव में चारलेश बाड़ा के घर में पिछले चार साल से रह रहा था, उसकी पुत्री सलिमा बाड़ा से प्रेम संबंध में था।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या

24 नवंबर की रात किसी बात को लेकर विवाद हुआ और चारलेश बाड़ा और उसकी पत्नी मरियम कुजूर और बेटे अतुल बाड़ा ने अनूप मिंज की हत्या कर दी। साक्ष्य छुपाने को लेकर शव को दफना दिया। जिसे ग्रामीणों की शिकायत के बाद पुलिस ने कब्र से निकलवाया और इस हत्याकांड का खुलासा किया।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका

हत्या में शामिल चारलेश बाड़ा और मरियम कुजूर को एक दिसंबर को गिरफ्तार कर लातेहार जेल भेज दिया गया था। जबकि पुलिस फरार तीसरे आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी अभियान चला रही थी। इसी दौरान आज उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

छापेमारी की इस कार्रवाई में केस आईओ राकेश कुमार राम, पुअनि संजय रत्न व सशस्त्र बल शामिल थे।