Breaking :
||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति

लातेहार: सार्वजनिक जमीन की बंदोबस्ती रद्द करने की मांग को लेकर पिपराडीह के ग्रामीणों ने दिया धरना

रूपेश अग्रवाल/लातेहार

लातेहार : जिले के बरियातू प्रखंड के पिपराडीह पंचायत के सैकड़ों ग्रामीणों ने शुक्रवार को अनुमंडल कार्यालय लातेहार के सामने दो दिवसीय धरना दिया। जिसका नेतृत्व भाजपा नेता व लातेहार विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी संतोष कुमार पासवान ने किया।

ग्रामीणों ने प्रदर्शन करते हुए बताया कि हमारे ग्राम में सर्वे खाता 30 प्लॉट 131 रकवा 3.31 एकड़ जमीन एवं प्लॉट संख्या 293 रकवा 0.31 एकड़ जमीन जिसपर गांव के द्वारा सार्वजनिक रूप से गमहेल पूजा व वट सावित्री पूजा कार्यक्रम ग्रामीणों द्वारा संपादित किया जाता है। जिसे अवैध रूप से गांव के ही चंद्रदेव यादव पिता लालदीप यादव एवं उसके भाई अशोक यादव के द्वारा बंदोबस्त करा लिया गया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

वहीं कर्मचारी की मिलीभगत 31 डिसमिल की उस जमीन का ऑनलाइन रसीद भी कट चुका है। जबकि लातेहार जिले में बंदोबस्त जमीन का ऑनलाइन रसीद अभी तक नहीं कटी है। जिसको लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणों का कहना है कि इस बात की शिकायत कई बार थाना एवं अन्य पदाधिकारियों से की। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गयी।

धरना प्रदर्शन के बाद अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार के नाम ग्रामीणों ने एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें बंदोबस्ती को रद्द करने की मांग की गयी। वहीं ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि कार्रवाई नहीं की जाती है तो हमलोगों का धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।

मौके पर शैलेन्द्र यादव, लखन यादव, प्रकाश यादव, सुदामा यादव, बिसम्भर यादव, बैजनाथ यादव, निर्मल यादव, सहदेव यादव, गंगा यादव, दिनेश यादव समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।