Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

लातेहार: बालूमाथ में जंगली हाथियों का आतंक जारी, चार घरों को तोड़ा, अनाज भी खाया

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में जंगली हाथी का आतंक जारी है। इस दौरान शनिवार की रात जंगली हाथियों ने बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय से सटे बसिया ग्राम के बरवा टोला में जमकर उत्पात मचाया।

Raja AD

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हाथियों ने बरवा टोला निवासी कुम्हर गंझू, टुमन गंझू, झखन गंझू व मोती गंझू के घर को ध्वस्त कर दिया और घर में रखे अनाज खा गए। इस घटना में ग्रामीणों को लाखों रुपए का नुक्सान हुआ है। इस घटना से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। हालांकि ग्रामीण समय रहते हाथी को भगाने में सफल रहे नहीं तो और जानमाल की क्षति हो सकती थी।

मालूम हो कि बीते 2 वर्षों से बालूमाथ के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में जंगली हाथियों द्वारा लगातार कहीं ना कहीं नुकसान पहुंचाया जाता रहा है। अब तक 1 दर्जन से अधिक ग्रामीणों की जान और 3 दर्जन से अधिक घरों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है।

Raja AD 2

वही जंगली हाथियों को भगाने के लिए वन विभाग का प्रयास निष्फल साबित हो रहा है। जिसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है। इसे देखते हुए क्षेत्र के ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों से इस क्षेत्र से जंगली हाथी को भगाने व उचित मुआवजे की मांग की है।