Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

सतबरवा: आंधी में उड़ी जलमीनार की सोलर प्लेट, लोगों को सताने लगा जल संकट का डर

प्रेम पाठक/सतबरवा

पलामू : जिले में गुरुवार की शाम आये आंधी तूफान में सतबरवा प्रखंड के खामडीह गांव में लगे जलमीनार की सोलर प्लेट उखड़कर बिजली की तार को तोड़ते हुए जमीन पर आ गिरी। जिससे आस पास के ग्रामीणों के लिए एकमात्र जल स्रोत पर संकट के बदल छा गये। इस भीषण गर्मी में यह जलमीनार ही लगभग 40 परिवारों का एक मात्र सहारा था। इस घटना के बाद से लोगों को जल संकट का डर सताने लगा है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ग्रामीणों ने बताया कि जलमीनार के बन जाने से हमारी जल समस्या समाप्त हो गयी थी। लेकिन फिर से अब पानी के लिए दूर दूर भटकना पड़ेगा। पास में ही एक चापाकल खराब पड़ा है, कई बार विभाग को सूचना देने के बाद भी नही बनाया गया है। आगामी दिनों में होनेवाली पानी की समस्या को लेकर ग्रामीण परेशान हैं। उन्होंने अधिकारियों से जल्द से जल्द जल समस्या से निजात दिलाने की गुहार लगायी है।