Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: NH-75 फोरलेन सड़क के लिए आयोजित आमसभा का रैयतों ने किया विरोध, कहा- नहीं चलेगा लार्ड डलहौजी का भूमि अधिग्रहण कानून

लातेहार : एनएच-75 के फोरलेन सड़क निर्माण के लिए अधिग्रहीत की गयी जमीन के कागजातों को लेकर मुआवजे के लिए आज कैंप का आयोजन किया गया। अनुसूचित जाति आवासीय विद्यालय होटवाग में सैकड़ों की संख्या में रैयत पहुंचे थे।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

रैयतों ने कैंप में मौजूद अधिकारियों से पूछा कि आपके मुआवजे की राशि कितनी है। क्या है सरकार का प्रावधान। अधिकारियों ने बताया कि इस फोरलेन के लिए सरकार की ओर से केवल 8 हजार रुपये प्रति डिसमिल मुआवजा दिया जायेगा। अधिकारियों की जवाब सुनकर रैयत भड़क गये और आमसभा के विरोध में हंगामा शुरू कर दिया। जिसके चलते आज की आमसभा नहीं हो सकी।

Kidzee Latehar
Kidzee Latehar

रैयतों का कहना है कि 400 साल से जिस जमीन पर हमारे पूर्वज खेती करते आ रहे हैं, सरकार और प्रशासन की नजर में मुआवजा महज 8 हजार रुपये है। जबकि भाजपा कार्यालय के पास जमीन की बिक्री तीन लाख रुपये प्रति डिसमिल है। भारत सरकार के भूमि अधिग्रहण अधिनियम के तहत चार गुना दर देने का प्रावधान है।

ग्रामीणों ने कहा कि हमारा भारत देश आजाद हो गया है। लार्ड डलहौजी का भूमि अधिग्रहण कानून अब यहां नहीं चलेगा।

विरोध प्रदर्शन में लक्ष्मण यादव, राजधानी यादव, हरिशंकर यादव, प्रभु यादव, दिनेश्वर सिंह, धर्मेंद्र सिंह, राजमुनी राम, विजय राम, मन्टु राम, शभु यादव, विशुन देव यादव, वीरेंद्र यादव, संजय यादव, सुरेंद्र यादव, बसंत यादव, अमित यादव, रंजीत यादव, हीरा यादव सहित काफी संख्या में लोग शामिल थे।