Breaking :
||लातेहार: मनिका में संदेहास्पद स्थिति में पेड़ से लटका मिला युवक का शव||झारखंड में सात IAS अफसरों का टांस्फर-पोस्टिंग, रमेश घोलप बने चतरा डीसी||गढ़वा जाने के क्रम में लातेहार पहुंचे सीएम चम्पाई सोरेन, कहा- बैद्यनाथ राम को मंत्री बनाने पर फैसला जल्द||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट
Sunday, March 3, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में वाहन चेकिंग अभियान चलाकर 1,67,500 रुपये वसूला जुर्माना

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : जिला परिवहन पदाधिकारी सुरेंद्र कुमार ने के निर्देश पर आज शनिवार को बालूमाथ थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग जगह पर वाहन चेकिंग अभियान चलाकर 167500 लगाया गया हैँ। यह अभियान जिला परिवहन पदाधिकारी के द्वारा बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र स्थित मकईयाटाड पुलिस पिकेट के पास एवं बालूमाथ थाना चौक के समीप चलाया गया।

इस दौरान 52 छोटी बड़ी वाहन बिना हेलमेट, सीट बेल्ट, बीमा, ड्राइविंग लाइसेंस आदि के पाये गये। जिन पर जुर्माना लगाते हुए मौके पर ऑफ़लाइन चालान के माध्यम से 25 वाहनों पर 25 हजार रुपये के राजस्व की वसूली की गयी। जबकि 27 वाहनों का ऑनलाइन चालान काटा गया। जिनसे 142500 वसूला गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान जिला परिवहन पदाधिकारी ने बताया कि यह अभियान लातेहार जिले के सभी क्षेत्रों में चलायी जा रही है। जिसे लेकर उन्होंने वाहन मालिक और चालकों से अपील किया है कि संबंधित वाहन चालक या मालिक अपने वाहनों के साथ सभी कागजात हेलमेट साथ लेकर चले। अन्यथा जांच के दौरान पकड़े जाने पर जुर्माना लगाया जायेगा।

इस अभियान के दौरान जिला परिवहन कार्यालय के डीआरएसएम तनवीर हुसैन, आरईऐ ऋषि राज, रजनीकांत के साथ बालूमाथ थाना के कई पुलिस अधिकारी और सशस्त्र बल शामिल थे।