Breaking :
||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी
Friday, June 14, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

डालटनगंज रेलवे स्टेशन से आरपीएफ ने नौ बाल मजदूरों को कराया मुक्त, एक तस्कर गिरफ्तार

पलामू : डालटनगंज रेलवे स्टेशन पर रेस्क्यू कर गुरुवार की रात नौ बाल श्रमिकों को मुक्त कराया गया है। सारे बच्चे दिल्ली ले जाये जा रहे थे। उन्हें एक खिलौना फैक्ट्री में काम पर लगाना था। सूचना मिलते ही गढ़वा रोड आरपीएफ इंस्पेक्टर बनारसी यादव ने कार्रवाई की। बच्चों को स्टेशन से मुक्त कराने के बाद टाउन थाना में रखा गया। सीडब्लूसी से काउंसिलिंग कराने के बाद बच्चों को उनके माता-पिता को सौंप दिया जायेगा। सारे बच्चे चैनपुर प्रखंड के सेमरा पंचायत क्षेत्र के निवासी हैं। इस सिलसिले में एक तस्कर रामगढ़ के चौपरिया निवासी मुनीफ अंसारी (21) को गिरफ्तार किया गया है।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

शहर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अभय कुमार सिन्हा ने शुक्रवार को बताया कि गुप्त सूचना मिलने के बाद आरपीएफ गढ़वा रोड के इंस्पेक्टर बनारसी यादव ने डालटनगंज रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक से नौ बच्चों का रेस्क्यू किया। सभी बच्चों को दिल्ली के खिलौना फैक्ट्री में काम कराने के लिए ले जाया जा रहा था। सारे बच्चों को स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस से दिल्ली ले जाने की तैयारी थी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में एक तस्कर को गिरफ्तार किया गया है। उसने कई जानकारी दी है। इस पर कार्रवाई की जा रही है। सीडब्लूसी से काउंसिलिंग कराने के बाद बच्चों को उनके परिजनों के हवाले कर दिया जायेगा।

इधर बच्चों के परिजनों ने बताया कि सारे बच्चे गावं में क्रिकेट खेलने के बाद से लापता हो गए थे, उन्हें ढूंढा जा रहा था। इसी बीच सूचना मिली कि सभी को बहला फुसलाकर दिल्ली ले जाया जा रहा है। टाउन थाना से सूचना मिलने पर बच्चों को लेने के लिए पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि घर से निकलते समय बच्चों ने किसी तरह की कोई जानकारी नहीं दी थी।