Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

पलामू: ग्रामीणों ने मतदानकर्मियों को बनाया बंधक, लाठीचार्ज और पथराव

पलामू : जिले के तरहसी प्रखंड के सुदूर कसमार में पंचायत चुनाव के लिए मतदान के बाद उस समय काफी बवाल हो गया जब 124 नंबर मतदान केंद्र की तीन मतपेटियों को कथित तौर पर निजी कार से वज्रगृह ले जाया गया। तीन घंटे तक मतदानकर्मी बंधक बने रहे। मौके पर एक हजार ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई और डीसी को मौके पर बुलाने पर अड़े रहे।

तरहसी के बीडीओ सच्चिदानंद महतो, थाना प्रभारी कर्मपाल भगत, पांकी के थाना प्रभारी, कसमार पिकेट प्रभारी ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। बीडीओ के लिखित आश्वासन पर लोग मान गए।

जानकारी के अनुसार तरहसी के नवगढ़ा पंचायत के वार्ड संख्या 10 स्थित मतदान केंद्र संख्या 124 पर तीन बजे के बाद मतदान समाप्त होने पर संबंधित तीन मतपेटियों को मेदिनीनगर वज्रगृह में जमा करने की सूचना देकर प्रखंड अधिकारी निजी स्विफ्ट डिजायर कार से निकल गए। प्रोजाइडिंग ऑफिसर को कार से मतपेटी ले जाते देख ग्रामीणों ने उनका पीछा किया, लेकिन कार तेज रफ्तार में निकल गई।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

घटना के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए और विरोध करने लगे। भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष प्रवीण सिंह, रिंकू सिंह, निवर्तमान अध्यक्ष रजनी सिंह, पायनियर पांडेय समेत अन्य लोग प्रदर्शन करते हुए कसमार क्लस्टर पहुंचे। इधर ग्रामीणों ने मतदान कर्मियों को ले जा रही बस को रोका और सभी को बंधक बना लिया. बूथ संख्या 124 पर पुनर्मतदान की मांग पर ग्रामीण चुनाव आयोग अड़ा रहा। साथ ही कार से मतपेटी ले जाने में शामिल प्रोजाइडिंग अधिकारी व आरोपितों पर कार्रवाई की मांग की।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

कुछ देर बाद तरसी के निर्वाचक पदाधिकारी सह बीडीओ सच्चिदानंद महतो ने थाना प्रभारी के साथ मौके पर पहुंचकर चुनाव आयोग से संबंधित मतदान केंद्र पर तत्काल कार्रवाई करते हुए प्रोजाइडिंग ऑफिसर पर तत्काल कार्रवाई करते हुए दोषी पाए जाने पर बैलेट बॉक्स को कब्जे में ले लिया। लिखित आश्वासन दिया, लेकिन डीसी को मौके पर बुलाने की मांग पर लोग अड़े थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

इस दौरान हंगामा करने पर लाठीचार्ज भी किया गया। प्रशासन की ओर से लाठीचार्ज पर स्थानीय लोगों ने ईंट-पत्थरबाजी शुरू कर दी। इससे कुछ देर के लिए मौके पर अफरा-तफरी मच गई। पथराव में एक अधिकारी के घायल होने की सूचना है। मौके पर करीब तीन घंटे तक समझौता का दौर चला। आखिरकार लोग मान गए और मतदानकर्मी क्लस्टर छोड़कर वज्रगृह के लिए रवाना हो गए।