Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

पलामू : खुदाई में मिली अष्टधातु से निर्मित माँ दुर्गा की मूर्ति

झारखंड के पलामू ज़िला के हुसैनाबाद प्रखंड अंतर्गत बराही गांव में जमीन की खुदाई के दौरान मां दुर्गा की मूर्ति मिली है। गांव में बजरंगबली की 105 फीट ऊंची प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठान का कार्यक्रम चल रहा था। इसी दौरान बुधवार को प्रवचनकर्ता स्वामी सुंदर जी महाराज के निर्देश पर जमीन की खुदाई की गई। इसमें अष्टधातु से निर्मित मां दुर्गा की प्रतिमा मिली है। जमीन की खुदाई में JCB की मदद ली गई। इसी दौरान मां दुर्गा की करीब डेढ़ फीट की मूर्ति मिली।

मूर्ति मिलने के बाद माता के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ पड़ा। दूर-दूर से मूर्ति को देखने के लिए देर रात तक लोगों का पहुंचना जारी रहा। मूर्ति कब की है। यह अब तक साफ नहीं हो सका है। मूर्ति मिलने के बाद श्रद्धालुओं की ओर से भजन कीर्तन का कार्यक्रम शुरू कर दिया गया है।

मालूम हो कि हुसैनाबाद के बराही गांव में दो मई से लक्ष्मी नारायण यज्ञ शुरू हुआ। यज्ञ के साथ स्वामी सुंदर जी महाराज हर दिन प्रवचन कर रहे हैं। इसी बीच बुधवार को स्वामी सुंदर महाराज जी ने प्रवचन स्थल के पास की जमीन की खुदाई का निर्देश दिया। स्वामी जी के आदेश पर यज्ञ समिति के लोगों ने JCB से प्रवचन स्थल के जमीन की खुदाई कराई। इसमें डेढ़ फीट ऊंची दुर्गा मां की मूर्ति बरामद की गई।

गांव में 105 फीट ऊंची दक्षिणी मुखी महावीर हनुमान जी की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा सात मई को होनी है। सोमवार को कलश स्थापना किया गया था। बुधवार से यज्ञ प्रारंभ हुआ। लोगों का कहना है कि प्रवचन करते हुए महाराज जी अचानक रोने लगे। लोगों ने इसका कारण पूछा तब उन्होंने कहा कि यहां जमीन के नीचे कुछ है। करीब चार फीट की खुदाई करने के बाद मां दुर्गा की मूर्ति मिली।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें