Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

पलामू में देवर ने टांगी से मारकर भाभी को किया घायल, समय पर नहीं पहुंची एम्बुलेंस, परिजनों ने खाट पर टांग कर पहुंचाया अस्पताल, मौत

Palamu Panki Murder

पलामू जिले के पांकी थाना क्षेत्र के ताल पंचायत के चेटर ग्राम में बुधवार की रात बच्चों के बीच हुए झगड़े में देवर ने अपनी भाभी को टांगी से मौत के घाट उतार दिया। घटना के बाद से आरोपी फरार है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी में लगी हुई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार झाबर भुइयां और लक्ष्य भुइयां दोनों सगे भाई हैं। किसी बात को लेकर दोनों भाइयों के बच्चों में कहासुनी हो गई। मामला इतना बढ़ गया कि लक्ष्य भुइयां ने अपनी भाभी कुंती देवी के सिर पर टांगी से वार कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी। । बीच-बचाव करने पर अपने भाई पर भी टांगी से हमला किया।

घटना की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी अमित कुमार सोनी ने तत्काल एंबुलेंस को भिजवाया। हालांकि एंबुलेंस के पहुंचने से पहले ही परिजन कुंती को खाट की पालकी पर उठाकर इलाज के लिए पांकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले आए। जहाँ प्राथमिक उपचार किया गया। हालाँकि गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे मेदिनीनगर एमआर एमसीएच रेफर कर दिया गया।

मेदिनीनगर एमआर एमसीएच में इलाज के दौरान रात दो बजे कुंती की मौत हो गई। बचाव करने में कुंती देवी का पति झाबर भुइयां भी घायल हो गया, जिसका इलाज गांव में ही चल रहा है। मृतक कुंती देवी अपने पीछे पति के साथ दो बेटियों और तीन बेटों को छोड़ गई है। इस घटना से परिवार के सदस्यों का रो रोकर बुरा हाल है।

Palamu Panki Murder


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *