Breaking :
||लातेहार: दो बाइकों की टक्कर में मामा-भांजा समेत चार घायल समेत बालूमाथ की दो खबरें||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस||झारखंड कैबिनेट की बैठक 19 जून को, लिये जायेंगे कई अहम फैसले||रजरप्पा को विश्वस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में किया जाये विकसित, कार्ययोजना करें तैयार : मुख्यमंत्री||झारखंड में IPS अधिकारियों का ट्रांसफर-पोस्टिंग||पलामू में प्रतिबंधित मांस का टुकड़ा फेंके जाने से तनाव, इलाका पुलिस छावनी में तब्दील||JBKSS प्रमुख जयराम महतो ने की विधानसभा चुनाव में 55 सीटों पर लड़ने की घोषणा||मुठभेड़ में पांच नक्सलियों को मार गिराने वाली टीम को DGP ने किया सम्मानित, कहा- मुख्य धारा में लौटें, अन्यथा मारे जायेंगे||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम
Wednesday, June 19, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू भाजयुमो ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला फूंका

पलामू : भारतीय जनता युवा मोर्चा पलामू ने राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन को असफल सरकार का मुखिया बताकर मंगलवार की शाम छहमुहान पर पुतला दहन किया। पुतला फूंकते हुए भाजयुमो जिला अध्यक्ष ज्योति पांडेय ने कहा कि विगत 2 दिन पहले जेएससीसी द्वारा विभिन्न पदों हेतु आयोजित परीक्षा में बड़े पैमाने पर धांधली की गयी। इसे लेकर राज्य भर के प्रतियोगी छात्रों में काफ़ी रोष व्याप्त है। युवा मोर्चा राज्य के युवाओं की आवाज बनकर निकम्मी युवा विरोधी सोरेन सरकार के खिलाफ़ आवाज बुलंद करेगी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मोर्चा जिलाध्यक्ष ने कहा कि अन्य राज्यों में पूर्व से ही काम कर रहे लोगों को नियुक्ति पत्र देने के लिए बेवजह परेशान कर भोली भाली जनता की आंखों में धूल झोंकने का कार्य कर रही है हेमंत सरकार। पूर्व में भी भाजपा के मुख्यमंत्री का आगमन पलामू में हुआ है, लेकिन हेमंत सोरेन के आगमन पर सारे स्कूल-कॉलेजों को बंद कराकर उनकी स्कूल बसों को संख्या लाने में लगाया गया है और स्कूली बच्चों को राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल करके अपनी वाहवाही बटोरी जा रही है। इनकी सोच शैक्षणिक व्यवस्था को ध्वस्त करने की है। पूर्व में किये गये हैं चुनावी वादे सिर्फ़ वादे बनके रह गयी।

भाजपा नेता परशुराम ओझा ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा राज्य भर में घूम-घूम कर ऑफर लेटर बांटना केवल आईवास है। अविनाश वर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा अब तक किसी भी पद के लिए कोई भी नियुक्ति नहीं लेना हास्यास्पद है। केवल पुरानी भाजपा शासन की रघुवर दास सरकार द्वारा ली गयी परीक्षाओं में उत्तीर्ण छात्रों के बीच नियुक्ति पत्र बांट कर सरकार केवल बड़ी-बड़ी बातें कर रही है। छात्रों द्वारा परीक्षा में हुई धांधली को लेकर जब आवाज उठायी गयी तो सरकार द्वारा उन पर केस दर्ज किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

Palamu Latest News Today