Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

पलामू: नर्सिंग होम में मरीज की मौत के बाद डॉक्टर शव को घर के बाहर फेंक कर भागा, परिजनों ने किया हंगामा

पप्पू कुमार / मेदिनीनगर

पलामू : विश्रामपुर के डंडिला गांव स्थित पॉपुलर नर्सिंग होम में डॉक्टर की लापरवाही से एक महिला की कथित तौर पर मौत हो गई।

मृतक चिंता देवी (35 वर्ष) रेहला थाना क्षेत्र के रक्साहा गांव निवासी ललन चौधरी की पत्नी थी। चिंता देवी की मौत के बाद परिजनों ने नर्सिंग होम के सामने हंगामा किया।

क्या है पूरा मामला

बताया गया कि ललन चौधरी की पत्नी के पेट में दर्द हुआ करता था। वह इलाज के लिए पॉपुलर नर्सिंग होम गई थी। जहां डॉक्टरों ने उसे बताया कि अपेंडिक्स और पेट में गर्भाशय में सूजन है। जिसके लिए ऑपरेशन करना होगा। पिछले 12 मई को चिंता देवी को नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने उसका ऑपरेशन किया। सोमवार को चिंता देवी की हालत बिगड़ने लगी। अंतत: दोपहर 2 बजे उसकी मौत हो गई।

परिजनों का आरोप है कि चिंता देवी की मौत के बाद पॉपुलर नर्सिंग होम के संचालक डॉ वकील अंसारी शव को अपनी कार में लेकर मृतका के घर पहुंचे और बाहर फेंक कर भाग गए। जिसके बाद गुस्साए परिजन व ग्रामीण फिर शव लेकर नर्सिंग होम पहुंचे। जहां ग्रामीणों और परिजनों ने हंगामा किया।

सूचना मिलने पर रेहला थाना प्रभारी नेमधारी रजक पुलिस बल के साथ नर्सिंग होम पहुंचे। इस संबंध में मृतका के पति ललन चौधरी ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने का आवेदन दिया है।

इधर, हंगामा का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नगर अध्यक्ष ऋषि पांडेय, निवर्तमान पार्षद राजकुमार चौधरी, पूर्व पार्षद भरदुल चौधरी और युवा समाजसेवी राहुल ठाकुर ने मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की है। राहुल ठाकुर ने बताया कि मृतक के तीन नाबालिग बच्चे हैं। इसके रखरखाव के लिए मुआवजा जरूरी है।