Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: तरहसी प्रखंड प्रमुख के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव, वोटिंग के बाद होगा फैसला

पलामू : जिले के तरहसी प्रखंड प्रमुख प्रिया कुमारी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। उपप्रमुख अजय कुमार सिंह सहित कई पंचायत समिति सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव से संबंधित आवेदन पंचायत समिति सचिव सह प्रखंड विकास पदाधिकारी सचिदानंद महतो को उनके कार्यालय में सौंपा। इसकी प्रस्तावक उदयपुरा वन की पंचायत समिति सदस्य शकुंतला देवी हैं।

प्रमुख का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा हो गया है। पंचायती राज अधिनियम 2001 के संशोधित नियम 2012 के तहत उप प्रमुख कुल पंसस सदस्यों के एक चौथाई सदस्यों के हस्ताक्षर से प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकते हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

सचिव सह प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि तरहसी प्रखंड में पंचायत समिति सदस्य के 16 पद हैं। इनमें से अधिकांश पंसस ने प्रपत्र क के माध्यम से हस्ताक्षर कर प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है। अविश्वास प्रस्ताव स्वीकार कर लिया गया है और अब वोटिंग होगी, उसके बाद ही तय होगा कि प्रमुख प्रिया कुमारी बनी रहती हैं या बेदखल हो जाती हैं।

इस संबंध में प्रारूप भरकर निर्वाची पदाधिकारी, उपपीठासीन पदाधिकारी, सदर मेदिनीनगर अनुमंडल पदाधिकारी को भेज दिया गया है। अगले 15 दिनों के अंदर निर्वाची पदाधिकारी विपक्षी पंचायत समिति सदस्यों को अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मतदान की तिथि देंगे। संबंधित तिथि पर मतपत्र के माध्यम से मतदान होगा। जो लोग अविश्वास के पक्ष में हैं वे पांच मतपत्र पर निशान लगायेंगे, जबकि दूसरी तरफ के लोग गुणा का चिह्न बनायेंगे।

इस मतदान प्रक्रिया के दौरान प्रमुख प्रिया कुमारी मतदान नहीं करेंगी। केवल प्रक्रिया में भाग लेंगी। कुल 15 सदस्यीय पंसस भाग लेंगे और पक्ष विपक्ष में जिनकी संख्या ज्यादा होगी फैसला उनके पक्ष में आयेगा। आज से अविश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया के दौरान प्रमुख द्वारा किसी भी योजना की स्वीकृति या राशि का भुगतान आदि नहीं किया जायेगा।

प्रस्तावक शकुंतला देवी एवं अन्य पंचायत समिति सदस्यों ने आरोप लगाया कि प्रमुख अपने पद का दुरुपयोग कर जनसंख्या एवं क्षेत्र के आधार पर राशि खर्च करते हैं तथा मनमाना रूप अपनाते हैं। ऐसे में उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है।