Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
पलामू प्रमंडल

पांच चरणों में होगा NH-75 फोर लेन का निर्माण, लातेहार, पलामू और गढ़वा के लोगों को मिलेगी राहत

NH-75 फोर लेन निर्माण

पलामू : भारतमाला परियोजना के तहत अब एनएच-75 को फोर लेन सड़क में बदला जाएगा। वहीं यह सड़क लातेहार, डाल्टनगंज, पलामू, गढ़वा होते हुए उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के विंढमगंज की सीमा को सीधे स्पर्श करेगी। एनएच-75 के विस्तार से झारखंड की राजधानी रांची के अलावा लातेहार, पलामू और गढ़वा जिलों के लोगों को विशेष राहत मिलेगी। वर्तमान में राँची से कुडू तक NH-75 फोर लेन बनाया गया है।

आपको बता दें, पलामू सांसद बीडी राम एनएच-75 के विस्तार के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। पलामू सांसद विष्णु दयाल राम ने सोमवार को लोकसभा में नियम 377 के तहत कुडू से पलामू संसदीय क्षेत्र, पलामू के दोनों जिलों वाया गढ़वा वाया विंढमगंज से उत्तर प्रदेश के सिवाना तक एनएच-75 के फोर लेन निर्माण का कार्य शुरू करने के संबंध में सोमवार को महत्वपूर्ण बात उठाई। सांसद बीड़ी राम ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-75 भारतमाला परियोजना का हिस्सा है। यह सड़क रांची-वाराणसी तक फोर लेन की होनी है।

उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से जिस कंपनी को इस सड़क का निर्माण कार्य शुरू में मिला था, उसने इस सड़क का इतना घटिया निर्माण कराया कि आज यह सड़क गड्ढों में बदल गई है। एनएचएआई जहां एक से बढ़कर एक कीर्तिमान स्थापित कर रहा है, वहीं दूसरी ओर एनएच-75 की यह दुर्दशा अविश्वसनीय, अकल्पनीय है। मुझे पता है कि इस पूरे प्रोजेक्ट को 5 चरणों में बनाने की योजना है।

लेकिन, सबसे बड़ा सवाल कब तक हमारे संसदीय क्षेत्र पलामू की जनता को भुगतना पड़ेगा। वर्तमान में इस सड़क पर ओवरलेइंग का कार्य चल रहा है, लेकिन यह पर्याप्त नहीं है।

सांसद ने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के मंत्री से उक्त सड़क की जर्जर हालत को देखते हुए संबंधित अधिकारियों को जल्द से जल्द निर्देश देने का अनुरोध किया है ताकि एनएच 75 के फोरलेन का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो सके।

आपको बता दें, एनएच 75 फोर लेन का निर्माण कुल पांच चरणों में होगा। इसका पांचवां चरण खजूरी से विंढमगंज तक है। वहीं चौथे चरण में पलामू जिले के शंखा से गढ़वा जिले के खजूरी तक बाईपास रोड है। चौथे चरण के बायपास में बहुत तेजी से काम चल रहा है। बाइपास का निर्माण कार्य मार्च 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद क्रमश: तीसरे, दूसरे और पहले चरण का काम किया जाएगा। एनएच 75 फोरलेन के तीसरे चरण में शंखा से भोगू तक, दूसरे चरण में भोगू से लातेहार के उदयपुरा तक और पहले चरण में उदयपुरा से कुडू तक सड़क का निर्माण शामिल है।

NH-75 फोर लेन निर्माण