Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: विधायक ने किया कर्मा सरोवर और डॉ. होमी जहांगीर भाभा इको पार्क का उद्घाटन

लातेहार : विधायक बैद्यनाथ राम ने सोमवार को जिला मुख्यालय के स्टेशन रोड स्थित न्यू पुलिस लाइन में कर्मा सरोवर एवं डॉ. होमी जहांगीर भाभा इको पार्क का फीता काटकर उद्घाटन किया।

मौके पर विधायक ने कहा कि पुलिस लाइन की खूबसूरती काफी बढ़ गयी है। उन्होंने कहा कि इसे सजाने में पुलिस विभाग ने काफी मेहनत की है। अब शहर के लोग कर्मा सरोवर और इको पार्क का लाभ उठा सकेंगे। इसके बाद सबों ने पार्क का भ्रमण किया। इस अवसर पर कई फलदार व औषधीय पौधे भी लगाये गये।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके पर आईजी पलामू राजकुमार लकड़ा, उपायुक्त भोर सिंह यादव, डीएफओ रोशन कुमार, पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन, सीआरपीएफ 214 बटालियन कमांडेंट केडी जोशी, महुआडांड एसडीपीओ राजेश कुजूर, जिला 20 सूत्री उपाध्यक्ष अरुण कुमार दुबे, लातेहार थाना प्रभारी आशुतोष कुमार, बारियातू थाना प्रभारी मुकेश चौधरी, चंदवा थाना प्रभारी बबलू कुमार, बालूमाथ थाना प्रभारी प्रशांत प्रसाद, छिपादोहर थाना प्रभारी अभिषेक कुमार, महुआडांड थाना प्रभारी आशुतोष यादव, बरवाडीह थाना प्रभारी श्रीनिवास सिंह, गारू थाना प्रभारी राजीव भगत, समाजसेवी ज्ञानचंद पांडेय, ललित पाठक, आशीष कुमार बाग, समशूल होदा, सुदामा प्रसाद, नवीन कुमार सिन्हा, राकेश दूबे, सच्चिदानंद प्रसाद समेत कई लोग मुख्य रूप से मौजूद रहे।