Breaking :
||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान||लातेहार: बालूमाथ में फिर एक विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पुलिस जांच में जुटी||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी

चंदवा में बंद पड़े पुराने अभिजीत पावर प्लांट पर माफियाओं की नज़र, मची है लूट : प्रतुल

मुकेश कुमार सिंह/चंदवा

प्लांट से लगातार हो रही चोरी, स्क्रैप के नाम पर कीमती उपकरणों को ले गये कूड़े के भाव

लातेहार : चंदवा में बंद पड़े अभिजीत के पुराने प्लांट से इन दिनों स्क्रैप के नाम पर दिनदहाड़े चोरी हो रही है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने इस चोरी को माफियाओं द्वारा दिनदहाड़े लूट बताया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रतुल ने कहा कि स्क्रैप के नाम पर कीमती सामान की चोरी की गयी है। इस बड़ी चोरी में एक माफिया गिरोह सक्रिय है, जो मुट्ठी भर स्थानीय दलालों के साथ मिलकर पूरे प्लांट को लूटना चाहता है। प्रतुल ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा मुझे दी गयी जानकारी के अनुसार जिस क्षेत्र से कबाड़ उठाया जाना था, उसके अलावा दबंग, माफिया गिरोह ने कबाड़ के नाम पर कई सामग्री की चोरी करायी। इस पूरे काम में बाहरी मजदूरों को लगाया गया है, जिससे स्थानीय मजदूरों में रोष है।

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि वे जल्द ही प्लांट से प्रभावित रैयतों, मजदूरों और स्थानीय ग्रामीणों से मिलेंगे और पूरी लूट की जानकारी संबंधित मंत्रालय और अधिकारियों को देंगे। स्क्रैप के नाम पर करोड़ों की लूट की गयी है। जानकारों के मुताबिक इस लूट की रकम कई सौ करोड़ रुपये है। बड़ी जांच एजेंसी से जांच की दरकार है। प्रतुल ने कहा कि बड़े दुर्भाग्य की बात है कि कई स्थानीय रैयतों को अभी तक उनकी जमीन का पूरा मुआवजा नहीं मिला है, लेकिन लूट का खेल बदस्तूर जारी है।