Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार युवक की मौत समेत बालूमाथ की चार खबरें||झारखंड: आग लगने की सूचना पर ट्रेन से कूदे यात्री, झाझा-आसनसोल यात्रियों के ऊपर से गुजरी, 12 की मौत||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पहुंचीं रांची, सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में हुईं शामिल, कहा- दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की राह पर भारत||झारखंड में बिजली हुई महंगी, नयी दरें एक मार्च से होंगी लागू||झारखंड में बड़े पैमाने पर BDO की ट्रांसफर-पोस्टिंग, यहां देखें पूरी लिस्ट||दुमका में फिर पेट्रोल कांड, प्रेमिका और उसकी मां पर पेट्रोल डाल कर प्रेमी ने लगायी आग||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, शव बरामद||UP राज्यसभा चुनाव में BJP के आठों उम्मीदवारों ने की जीत हासिल||माओवादी टॉप कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते का सक्रिय सदस्य ढेचुआ गिरफ्तार||पलामू: तूफान और बारिश ने मचायी तबाही, दो छात्रों की मौत, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं ब्लैकआउट
Thursday, February 29, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार का शिवपुरी मोहल्ला नरक में तब्दील, नगर पंचायत के गलतियों का खामियाजा भुगत रहे मुहल्लावासी

लातेहार : नगर पंचायत वार्ड नंबर 08 स्थित शिवपुरी मोहल्ले में 4 वर्ष पूर्व नगर पंचायत द्वारा बनाये गये अधूरे नाले के कारण शिवपुरीवासी गंदगी और प्रदूषण के बीच रहने को मजबूर हैं। बारिश के साथ शहर की गंदगी खेतों को बर्बाद कर रही है, आने वाली गंदगी और कचरे के कारण आसपास के पेयजल स्रोत भी खराब हो रहे हैं, साथ ही इस घनी आबादी वाले क्षेत्र के लोगों को गंदगी और दुर्गंध का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें गंदगी और दुर्गंध से भविष्य में होने वाले गंभीर बीमारियों का डर भी सता रहा है। लोगों ने अधिकारियों से मोहल्ले का दौरा कर वास्तविक स्थिति से अवगत होने का आग्रह किया है।

मामले को समझने की जरूरत, आखिर क्यों परेशान हैं मुहल्लावासी

शिवपुरी के लोगों का कहना है कि चार वर्ष पूर्व नगर पंचायत द्वारा मोहल्ले की पीसीसी सड़क को तोड़कर नाली का निर्माण कराया गया था। इस निर्माण में न केवल गुणवत्ता की अनदेखी की गयी, बल्कि शहर से निकलने वाली गंदगी की क्षमता का आकलन किये बिना ही इस नाले का निर्माण करा दिया गया। अब स्थिति यह है कि नाले की क्षमता से अधिक शहर का कचरा इसमें आने लगा है। नतीजा यह है कि नाले का गंदा पानी व कचरा मोहल्ले की कृषि योग्य भूमि में जमा हो रहा है। जिससे मोहल्ले के पेयजल स्रोत में नाले का गंदा पानी आने लगा है। साथ ही मोहल्ले के लोगों को गंदगी और दुर्गंध का सामना भी करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं इस अधूरे नाले के निर्माण से पीसीसी सड़क की स्थिति भी दयनीय हो गयी है। सड़क के बीच में बने इस नाले में संवेदक द्वारा जरुरत के मुताबिक़ स्लैब भी नहीं दिया गया है। जिस कारण इस नाले में गिरकर कई मवेशियों की मौत भी हो चुकी है। लोगों का कहना है कि इस मोहल्ले में अब तक जितनी भी सड़कें व नालियां बनी हैं, वे बेकार हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस समस्या से मोहल्लेवासी पिछले चार साल से परेशान हैं लेकिन अब तक इसका समाधान नहीं हो सका है। बरसात आते ही उनके माथे पर चिंता की लकीरें उभर आती हैं। मोहल्लेवासियों ने लातेहार उपायुक्त से उनकी समस्याओं को देखते हुए उचित कार्रवाई करने की मांग की है।