Breaking :
||झारखंड में पांचवें चरण का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न, आचार संहिता उल्लंघन के सात मामले दर्ज||लातेहार में शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न, 65.24 फीसदी वोटिंग||झारखंड में गर्मी से मिलेगी राहत, गरज के साथ बारिश के आसार, येलो अलर्ट जारी||चतरा, हजारीबाग और कोडरमा संसदीय क्षेत्र में मतदान कल, 58,34,618 मतदाता करेंगे 54 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला||चतरा लोकसभा: भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर, फैसला जनता के हाथ||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश
Tuesday, May 21, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार जिला परिषद उपाध्यक्ष ने बसिया डैम के सौंदर्यीकरण को लेकर किया स्थल निरीक्षण

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : जिला परिषद उपाध्यक्ष सह बालूमाथ पश्चिमी जिला परिषद सदस्य अनीता देवी ने बुधवार को बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र स्थित बसिया डैम के सुंदरीकरण को लेकर स्थल निरीक्षण किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

स्थल निरीक्षण के दौरान उनके साथ बालूमाथ प्रखंड के पूर्व उप प्रमुख संजीव कुमार सिन्हा, बसिया ग्राम के समाजसेवी मोहम्मद अख्तर, जिला परिषद सदस्य के पति प्रवीण कुमार सिंह आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे। डैम का सुंदरीकरण किस प्रकार और कैसे किया जाय इसके बारे में विचार-विमर्श किया गया।

मौके पर लातेहार जिला परिषद उपाध्यक्ष सह बालूमाथ पश्चिमी जिला परिषद सदस्य अनीता देवी ने कहा कि बसिया डैम को भी लातेहार सदर प्रखंड क्षेत्र में स्थित ललमटिया डैम की तरह पर्यटक स्थल जैसा बनाने का प्रयास किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि बसिया डैम का सीमांकन मेड पर पीसीसी पथ, बोट की सुविधा आदि दी जा सकती है। इसके लिए प्रारूप बनते ही प्राक्कलन तैयार कर संबंधित विभाग के अधिकारियों को समर्पित किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र स्थित बसिया डैम एक सुंदर, आकर्षक के साथ राज्य पथ के किनारे बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय से महज 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। प्रतिवर्ष सैकड़ों की संख्या में विदेशी साइबेरियन पक्षी यहां आते हैं। जिसे देखने लोग दूर-दूर से आते हैं। इसके सौंदर्यीकरण व पर्यटन स्थल बनने से क्षेत्र के लोगों को रोजगार के साथ-साथ आवागमन का अच्छा साधन भी मिलेगा।