Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

MMCH में प्रसव के बाद लातेहार की महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

पलामू : मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में प्रसव के बाद एक गर्भवती महिला की मौत हो गई। महिला की मौत पर परिजनों ने बुधवार को एमएमसीएच परिसर में हंगामा किया। मृतक महिला के परिजन शव लेकर अस्पताल के मुख्य द्वार पर धरना दे रहे थे और अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।

परिवार का आरोप है कि डॉक्टर और एएनएम की लापरवाही के कारण महिला की जान चली गई। इसलिए डॉक्टर और एएनएम के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। वहीं परिजन डॉक्टर और एएनएम को सस्पेंड करने की मांग पर अड़े थे।

इसे भी पढ़ें :- टाना भगतों का आंदोलन : आखिर क्या है पांचवीं अनुसूची का विवाद

जानकारी के अनुसार लातेहार जिले के मनिका के विनोद चौरसिया की पत्नी अंजलि देवी को प्रसव के लिए सोमवार रात मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉक्टरों ने मंगलवार सुबह छोटा ऑपरेशन के जरिए उसका प्रसव कराया।

बताया जाता है कि डिलीवरी के बाद तेजी से ब्लीडिंग होने लगी। डॉक्टरों ने महिला के परिजनों से खून की व्यवस्था करने को कहा था। दो यूनिट रक्त भी दिया गया, लेकिन अत्यधिक रक्तस्राव के कारण महिला की हालत बिगड़ने लगी। महिला की गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे रांची रेफर कर दिया। रांची जाते समय रास्ते में ही महिला अंजलि देवी की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार : चेक बाउंस के आरोपी को छह माह की सजा

इस घटना से नाराज मृतक महिला के परिजन बुधवार को अस्पताल पहुंचे और शव को लेकर विरोध शुरू कर दिया। बताया जाता है कि उक्त महिला का मायका चैनपुर थाना क्षेत्र के नरसिंहपुर पथरा में है।

विरोध प्रदर्शन में मृतक महिला के पिता लक्ष्मण चौरसिया, निवर्तमान जिप सदस्य विकास चौरसिया, व्यास प्रसाद चौरसिया, शशि चौरसिया, आशुतोष चौरसिया, इंदल चौरसिया, कमल किशोर प्रहलाद आदि शामिल थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह, अस्पताल अधीक्षक डॉ. डीके सिंह वहां पहुंचे और महिला के परिजनों को समझाया। लेकिन, वे डॉक्टर और नर्स के खिलाफ कार्रवाई और मुआवजा देने की मांग पर अड़े रहे। आश्वासन के बाद उन्होंने धरना समाप्त कर दिया।

इसके बाद शहर थाना पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया। बताया जा रहा है कि बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

महिला अंजलि देवी के ऑपरेशन में शामिल डॉक्टर और एएनएम से पूछताछ के लिए अस्पताल अधीक्षक ने जांच टीम गठित की है। इस संबंध में अस्पताल अधीक्षक डॉ डीके सिंह ने बताया कि ऑपरेशन में शामिल डॉक्टर और एएनएम से पूछताछ की गई है। उनसे 24 घंटे के भीतर स्पष्टीकरण मांगा गया है। यह पूछा गया है कि उक्त महिला को किन परिस्थितियों में रेफर किया गया था। वहीं जब खून की कमी थी तो उसका ऑपरेशन क्यों किया गया?

मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल