Breaking :
||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस
Saturday, June 15, 2024
पलामू प्रमंडलबरवाडीहलातेहार

बालू घाट शुरू कराने को लेकर जिप सदस्य ने खनन सचिव व उपायुक्त को लिखा पत्र

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह प्रखंड क्षेत्र में लगातार बालू की कमी के कारण प्रधानमंत्री आवास समेत कई सरकारी योजनाएं ठप पड़ी है। हालांकि इस महीने के बाद बालू उठाव पर लगी रोक खनन विभाग के द्वारा हटा दी जाएगी लेकिन प्रखंड क्षेत्र के बेतला और केचकी पंचायत और प्रखंड मुख्यालय के आसपास किसी भी पंचायत में बालू के उठाव को लेकर बालू घाट का आवंटन विभाग के द्वारा नहीं किया गया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस परेशानी को देखते हुए प्रखंड के पश्चिमी जिला परिषद सदस्य सन्तोषी शेखर ने पूर्व की जिला परिषद की बैठक में मामला उठाने साथ साथ एक बार फिर से राज्य के खनन सचिव और जिले के उपायुक्त को पत्र लिखकर प्रखंड के अंतर्गत खुरा, छेचा औऱ मंगरा पंचायत के बालू घाट को निबंधित करते हुए जल से जल विभाग के माध्यम से पंचायत स्तर बालू उठाव की प्रक्रिया शुरू कराने की मांग की है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

पत्र के माध्यम से उन्होंने यह भी कहा जिले के बैठक में मामला उठाए लगभग 2 माह बीत गए पर अब तक खनन विभाग के द्वारा कोई प्रक्रिया नहीं शुरू की गई जो काफी दुखद है। बालू के अभाव में विकास कार्य योजनाएं प्रभावित होने के साथ-साथ निजी कार्य में भी लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है साथ ही साथ इस व्यवसाय से जुड़े लोगों को भी काफी आर्थिक तंगी से जूझना पड़ रहा है।