Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: ट्रांसपोर्ट कंपनी के खिलाफ हाइवा ऑनर एसोसिएशन का 25 नवंबर से अनिश्चितकालीन चक्का जाम

लातेहार : कहा जाता है कि लिखतम के आगे बकतम नहीं चलती। जब लिखतम पर भी लोग अमल नही करें और अपनी लिखित बातों पर भी इनकार चले जायें या बात नहीं माने तो उसके बाद क्या किया जाये। यह क्षेत्र के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है। इसका ताजा उदाहरण लातेहार जिले में संचालित तुबेद कोल माइंस में ट्रांसपोर्टेशन का काम करने वाली मां अंबे ट्रांसपोर्ट कंपनी ने पेश किया है।

मामला कोयला खदानों में लातेहार जिले के हाइवा वाहनों को प्राथमिकता देने और तुबेद कोयला खदान से बालूमाथ थाना क्षेत्र स्थित कुशमाही रेलवे साइडिंग तक कोयला परिवहन करने से संबंधित है। इसी मांग को लेकर हाइवा ओनर एसोसिएशन ने दो नवंबर को अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था। इसके बाद लातेहार एसडीएम परवेज आलम और ट्रांसपोर्टिंग कंपनी के प्रतिनिधि से दूरभाष पर बात कर बालूमाथ थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार महतो और अंचलाधिकारी तृप्ति विजया कुजूर के सामने लिखित आश्वासन देते हुए 9 नवंबर को हाइवा ओनर्स एसोसिएशन से वार्ता करने पर सहमति बनी थी। जिसके बाद चक्का जाम वापस ले लिया गया था।

कंपनी के अधिकारियों व कर्मचारियों ने इस समस्या के समाधान के लिए 15 दिन की समय सीमा तय की थी, लेकिन 15 दिन बीत जाने के बाद भी ट्रांसपोर्ट कंपनी ने हाइवा ओनर एसोसिएशन की मांगों पर अमल नहीं किया। इसे देखते हुए जिला हाइवा ओनर एसोसिएशन ने बैठक कर अगले 25 नवंबर दिन शनिवार से फिर अनिश्चितकालीन चक्का जाम करने का ऐलान किया गया।

यह जानकारी देते हुए एसोसिएशन के जिला सचिव मो. शाहनवाज आलम व जिला कोषाध्यक्ष देवपाल प्रसाद ने कहा कि कंपनी अपनी मनमानी पर अड़ी है।

यहां उल्लेखनीय है कि लातेहार हाइवा ओनर एसोसिएशन पूरे लातेहार जिले के वाहनों के हित में बात कर रहा है, लेकिन लातेहार जिले के जिला परिषद् उपाध्यक्ष अनीता देवी को छोड़ कर अन्य जन प्रतिनिधि उनकी बात सुनना तो दूर संज्ञान लेने से भी कतरा रहे हैं। इससे स्पष्ट है कि क्षेत्र के जन प्रतिनिधि भी कंपनी के साथ मिलीभगत कर उनकी मनमानी का समर्थन करते हैं।

Balumath Latehar Latest News