Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

लातेहार: समायोजन की मांग को लेकर अनुबंध स्वास्थ्य कर्मियों का अनिश्चितकालीन धरना शुरू

अनुबंध स्वास्थ्य कर्मी

लातेहार : जिले के संविदा पारा चिकित्सा कर्मियों के सीधे समायोजन की मांग को लेकर आज से सिविल सर्जन कार्यालय के बाहर अनिश्चितकालीन धरना शुरू हो गया है। सोमवार को संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया था। लेकिन सरकार से वार्ता विफल हो गयी थी, जिसके बाद संविदा स्वास्थ्य कर्मी अपनी मुख्य मांगों को लेकर आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गये हैं।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान एनआरएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने कहा कि 2014 के नियमों के अनुसार 2018 के नियमों में आंशिक संशोधन करते हुए एनएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मियों को नियमित किया जाय।

जिलाध्यक्ष पंकज पाण्डेय ने धरने की अगुवाई करते हुए कहा कि जब तक सरकार संविदा कर्मियों की सेवा नियमित नहीं करेगी तब तक हम सभी एनआरएचएम संविदा स्वास्थ्य कर्मी हड़ताल पर रहेंगे। सरकार हमारे साथ भेदभाव की नीति अपना रही है। हमें सेवा के अनुसार भुगतान नहीं किया जा रहा है। आज पंद्रह साल से हम अपनी जान जोखिम में डालकर विभाग में सेवा दे रहे हैं। लेकिन सरकार की हमारे प्रति कोई सकारात्मक सोच नहीं है केवल ठगी का काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि अभी हम धरने पर बैठे हैं, अगर इसके बाद भी सरकार हमारी मांगों पर विचार नहीं करती है तो हम 24 जनवरी से आमरण अनशन पर बैठेंगे।

मौके पर अमरेन्द्र कुमार, मोहम्मद इकबाल, प्रमोद उरांव, चंदन कुमार, पुनम खलखो, रेणु सुचिता, अनुदीप , अनुजा केरकेट्टा, अंचल कुमारी, पुष्पा कंडुलना, सुकेशी गिद्ध, सुमती कुमारी, लक्ष्मी कुमारी, दीपा पूर्ति, अजीत कुजूर, रेणु बाड़ा, प्रिति तिर्की, अरूनीमा कुजुर, ममता टोप्पो, नीलम प्रभा मिंज, मेरीजोन तिग्गा, संजु कुमारी, अंकिता कुमारी सहित अन्य अनुबंधकर्मी मौजूद थे।

अनुबंध स्वास्थ्य कर्मी