Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू में सरकारी टीम ने की मनरेगा समेत अन्य योजनाओं की जांच, कहा- असल जरूरतमंदों को नहीं मिला आवास योजना का लाभ

पलामू : ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग की संयुक्त सचिव शैल प्रभा कुजूर ने मंगलवार को हुसैनाबाद क्षेत्र का दौरा कर मनरेगा, पंचायती राज और अन्य ग्रामीण विकास की अन्य योजनाओं की हकीकत जानने की कोशिश की। झरगड़ा पंचायत से जांच की शुरुआत कर संयुक्त सचिव ने आधा दर्जन पंचायत में योजनाओं की जांच की। उन्होंने कहा कि जिन्हें आवास योजना का लाभ मिलना चाहिए था उन्हें नहीं मिला। उन्होंने बीडीओ को लाभुकों की वेटिंग लिस्ट बनाने का निर्देश दिया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जिला परिषद उपाध्यक्ष आलोक कुमार सिंह उर्फ टुटू की शिकायतों को सही बताते हुए उन्होंने कहा कि पंचायत सचिवालय तक जाने के लिए जब सड़क ही काफी जर्जर है तब अन्य विकास की समीक्षा बेकार है। उन्होंने कूप स्वीकृति के लिए पहल करने की बात कही। झरगड़ा में मौसमी बेगम का प्लास्टिक से ढका फूस वाला घर, मानखाप में हरि यादव का घर, पथरा के अंबेडकर टोला की सड़क आदि का संयुक्त सचिव ने गहनता से जानकारी ली। झरगड़ा पंचायत सचिवालय का निरीक्षण किया।

जिला परिषद उपाध्यक्ष ने संयुक्त सचिव को बताया कि जल स्तर नीचे नहीं है। यदि कुंआ बनवाया जाये तो किसान अपनी फसल बचा सकते हैं। रोड बनवाना भी बहुत जरूरी है। सचिव ने कहा कि इसके बारे में वे उपायुक्त और राज्य स्तर पर भी बात करेंगी। उन्होंने बीडीओ को कहा कि 22 पंचायत है कम से कम 5 पंचायत का तो दौरा करें।

इस मौके पर प्रमुख राजकुमारी देवी, बीडीओ, पंचायत सेवक, कई मुखिया और अधिकारी मौजूद थे।