Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडपलामू प्रमंडल

गढ़वा: चुनाव कराकर लौट रही पोलिंग पार्टी पर ग्रामीणों ने किया हमला, जवान के हथियार लूटे व पीटा

गढ़वा : जिले के मेराल में ग्रामीणों ने एक मतदान दल पर हमला किया, एक जवान की न सिर्फ पिटाई की, बल्कि उसका हथियार भी लूट लिया और करीब एक घंटे तक उसे बंधक बनाकर रखा। बाद में पुलिस के पहुंचने पर उसे छोड़ दिया गया। इस मामले में पुलिस आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

जानकारी के अनुसार मेराल प्रखंड के गांव कमरमा के सेक्टर 10 से चुनाव कराकर एक मतदान दल के पदाधिकारी निजी वाहन में बैलेट बॉक्स लेकर गढ़वा लौट रहे थे। इस दौरान ग्रामीणों को उन पर शक हुआ और उन्होंने इसका विरोध करना शुरू कर दिया। देखते ही देखते ग्रामीण भड़क गए और मतपेटी को सुरक्षित रखने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे पुलिस कर्मी बेंकटेश शर्मा को घेर लिया। इस दौरान लोगों ने उसका हथियार भी छीन लिया और उसकी पिटाई कर दी।

advt

करीब एक घंटे तक ग्रामीणों ने उसे बंधक बनाकर रखा। इस दौरान युवक प्यास से परेशान हो गया। लेकिन गांव वाले उसे पानी पीने से रोकते रहे। इसकी सूचना मिलते ही मेराल थाना प्रभारी लालबिहारी प्रसाद दलबल सहित मौके पर पहुंचे। उन्होंने जवान को ग्रामीणों से मुक्त कराया और उसका हथियार बरामद किया।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

थाना प्रभारी ने मारपीट के आरोपित आधा दर्जन युवकों को हिरासत में भी लिया है। इस घटना को एसपी अंजनी कुमार झा ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने इस संबंध में पुलिस अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए हैं। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों को अंदेशा था कि चुनाव के बाद मतपेटी में धांधली हो जाएगी। इसी के चलते घटना हुई है।