Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
पलामू प्रमंडल

गढ़वा : डीजे लगे पिकअप वाहन ने आधा दर्जन लोगों को रौंदा

गढ़वा जिले के श्री बंशीधर नगर (नगर ऊंटारी) थाना क्षेत्र के गरबांध के पाटगढ़ टोले में होली के जुलूस में डीजे लगे पिकअप वाहन ने आधा दर्जन लोगों को रौंद डाला. जिससे घटनास्थल पर ही दो महिलाओं की दर्दनाक मौत हो गयी, जबकि पांच लोग जख्मी हो गये हैं. घटना शुक्रवार शाम चार बजे की है. इसमें तीन की हालात गंभीर बताई जा रही है.

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गरबांध के पाटगढ़ टोले में स्थानीय लोगों ने होली का जुलूस निकाला था. जुलूस में शामिल सभी लोग पिकअप वाहन पर लगे डीजे की धुन पर मस्ती में थिरक रहे थे. बड़ी संख्या में लोग खड़े होकर इसका आनंद ले रहे थे.

इसी बीच किसी ने अचानक पिकअप को स्टार्ट कर तेज गति से बढ़ा दिया, जिसकी चपेट में आने से दो महिला यशोदा देवी और कमोदा देवी की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी. जबकि पांच लोग मुनारी उरांव की पत्नी संझरिया देवी, विनोद उरांव की पुत्री नागवंती कुमारी एवं सुगवंति कुमारी, जायसवाल उरांव की पुत्री रिंकू कुमारी, प्रेमचंद उरांव की पुत्री संजू कुमारी घायल हो गई.

सभी घायलों को इलाज के लिये अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां प्राथमिक उपचार के बाद तीन लोगों संझरिया देवी, नागवंती कुमारी एवं रिंकू कुमारी की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने बाहर रेफर कर दिया. जबकि दो लोगों का अस्पताल में ही इलाज चल रहा है.

हादसे के विषय मे बताया जाता है कि वाहन का ड्राईवर वाहन को बंद कर उसमें चाबी लगा छोड़ नीचे खड़ा था. हालांकि हादसे के बाद ड्राईवर मौके से भाग गया है.

उधर, घटना के बाद उत्तेजित ग्रामीण मुआवजे की मांग को लेकर शव के साथ घटनास्थल पर धरने पर बैठ गए. पुलिस इंस्पेक्टर राजेश कुमार और थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार ने किसी तरह लोगों को समझा कर जाम हटाया. उचित मुआवजा का आश्वासन दिया गया जाम काफी देर तक रहा है. घटना के बाद से गांव में होली की खुशियां मातम में बदल गई है. हर कोई इस घटना से स्तब्ध है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *