Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

गढ़वा : बारातियों के पंडाल में लगी आग, पास के खलिहानों में रखे लाखों का अनाज भी जला

गढ़वा : बारात आने के दौरान पटाखा फोड़ने से पंडाल में आग लग गई। आग फैल कर एक किसान के खलिहान में पहुंच गई जहां सैकड़ों बोरी गेहूं, अरहर और अन्य फसलें जलकर राख हो गईं।

घटना जिले के हरिहरपुर ओपी क्षेत्र के हुरका गांव की है। मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को गांव के कमलेश शुक्ला की बेटी की शादी थी। द्वारपूजा के समय बारातियों द्वारा आतिशबाजी शुरू कर दी गई। इसी बीच पटाखों की चिंगारी से पास के एक खलिहान में भीषण आग लग गई। वहीं बारातियों के रुकने के लिए लगाए गए टेंट भी आग की चपेट में आ गए। जब तक लोग समझ पाते, आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। खलिहान में रखा करीब चार सौ बोरी गेहूं, डेढ़ सौ बोझा अरहर जलकर राख हो गया। साथ ही टेंट में आग लगने से लाखों रुपए के सामान जल कर राख हो गए।

इसे भी पढ़ें :- झारखण्ड में बिजली संकट गहराया, कई जिलों में लोड शेडिंग शुरू

आग की लपटें तेज होते ही 11 केवी वाले बिजली के तार भी जल गए। बढ़ती आग पर ग्रामीणों की सूझबूझ से काबू पाया जा सका। ग्रामीणों ने बताया कि घटना की सूचना प्रशासनिक अधिकारियों को रात में ही दे दी गई थी। लेकिन शनिवार की सुबह नौ बजे तक घटना की जानकारी लेने कोई भी मौके पर नहीं पहुंचा। पंचायत के मुखिया बिनोद सिंह व समाजसेवी अजय वर्मा ने नुकसान का आंकलन कर प्रशासन से मुआवजे की मांग की है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें