Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

लातेहार: बैंक से लोन दिलाने के नाम पर करकट की महिलाओं से धोखाधड़ी, एसपी से न्याय की गुहार

रूपेश अग्रवाल/लातेहार

लातेहार : जिला मुख्यालय के करकट मोहल्ला की महिलायें शुक्रवार को एसपी कार्यालय में पहुंची। धोखाधड़ी की शिकायत को लेकर महिलाओं ने एसपी अंजनी अंजन को आवेदन दिया। आवेदन में, उन्होंने महिला पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी करने का आरोप लगाया। इसके अलावा, एसपी से पैसे वापस दिलाने की मांग की है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, करकट इलाके की महिलाओं ने शमसाद अंसारी और उनकी पत्नी संजीदा बीबी पर बैंक से लोन दिलाने के नाम पर ठगी का आरोप लगाया है। महिलाओं ने आवेदन में कहा कि आवेदन सदर थाना पुलिस को भी दिया गया था। लेकिन उन्होंने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। सदर थाना द्वारा कार्रवाई नहीं किये जाने के बाद एसपी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आवेदन में कहा गया है कि संजीदा बीबी और उनके पति शमसाद अंसारी को बैंक से लोन मिला। लेकिन लोन को मंजूरी देने के बाद, उन्होंने सभी महिलाओं को पैसा वापस ले लिया, यह कहते हुए कि आप लोगों का पैसा बैंक में रखा गया है। कुछ दिनों बाद, जब बैंक ने लोन राशि चुकाने के लिए दबाव डालना शुरू किया। फिर कई महिलायें बैंक पहुंची। उन्होंने उन्हें बताया कि उनके पास लोन के पैसे नहीं हैं।

बैंक कर्मियों ने उन्हें बताया कि आप सभी के कागजात लोन के लिए आये थे। सभी को लोन की राशि का भुगतान भी किया गया है। इसलिए, आपको लोन की राशि का भुगतान करना होगा। इसके बाद, महिलाओं ने संजीदा बीबी से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि पैसा खर्च किया गया है। वह पैसे वापस करने में असमर्थ है।

जिसके बाद महिलाओं ने एसपी से मामले की जांच करके न्याय की गुहार लगायी है। नूर जहान, रशीदा बीबी, अश्विना बीबी, फातिमा बीबी, नुसरत परवीन, हिना फिरदौस, असगरी खातून, तबस्सुम बीबी, हिना बीबी, जमीना खातून, नोहा बानो, तरन्नुम खातून, यासमीन गुलनाज, मंजू देवी, लाल मुनी देवी और रशीदा बीबी समेत कई महिलायें उपस्थित थीं।