Breaking :
||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी||लातेहार: हाइवा की चपेट में आने से मजदूर घायल, विरोध में सड़क जाम समेत बालूमाथ की दो ख़बरें||चक्रवाती तूफ़ान ‘रेमल’ का असर, कल से दो जून तक बारिश, इन जिलों के लिए अलर्ट जारी||टेंडर कमीशन घोटाला: कल IAS मनीष रंजन से ED करेगी पूछताछ||पलामू SP की दरियादिली, हैदराबाद के अस्पताल में जवान की मौत के बाद बकाया राशि का भुगतान कर शव भी मंगवाया||पलामू में नाबालिग के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार||पलामू: 17 दिन से लापता युवक का मिला कंकाल, हत्या की आशंका
Wednesday, May 29, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार श्री वैष्णव दुर्गा मंदिर कार्यकारिणी समिति का विस्तार, 30 वें स्थापना दिवस की रूपरेखा तय

लातेहार. श्री वैष्णव दुर्गा मंदिर समिति, लातेहार की एक बैठक संरक्षक अभिनंदन प्रसाद की अध्यक्षता में मंदिर परिसर में आयोजित की गयी. बैठक में कार्यकारिणी समिति का विस्तार किया गया और 30 वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की गयी.

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

समिति का मुख्य संरक्षक स्थानीय विधायक बैद्यनाथ राम को बनाया गया है. जबकि संरक्षक मंडली में अभिनंदन प्रसाद, विनोद प्रसाद साहु, त्रिभुवन पांडेय, महेंद्र प्रसाद गुप्ता, बद्री प्रसाद साहु, अमरेश प्रसाद गुप्ता, दशरथ प्रसाद, अनिल कुमार साहु, डा विशाल शर्मा, सुभाष प्रसाद, शशिभूषण जायसवाल, भोला प्रसाद को शामिल किया गया है.

अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता, उपाध्यक्ष शशिभूषण पांडेय, कन्हाई प्रसाद अग्रवाल व बद्री प्रसाद, सचिव आशीष कुमार टैगोर, सह सचिव रविंद्र प्रजापति व रंजीत कुमार, कोषाध्यक्ष राजू रंजन सिंह, कार्यकारिणी सदस्य प्रमुख ओम प्रकाश प्रसाद, सह प्रमुख राजीव कुमार व उज्ज्वल साहु को बनाया गया है.

जबकि कार्यकारिणी सदस्यों में राजीव कुमार कुक्कू, प्रदीप प्रसाद, दीपक विश्वकर्मा, सतीष कुमार, आकाश कुमार जायसवाल, संतोष कुमार दुबे, संजय प्रसाद व पंकज कुमार को शामिल किया गया है.

बैठक में मंदिर के 30 स्थापना दिवस के कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की गयी. एक फरवरी को कलश यात्रा, दो फरवरी को दुर्गा सप्तशति पाठ एवं तीन फरवरी को पूर्णाहुति व भंडारा का आयोजन किया जायेगा. इसके लिए दायित्वों का बंटवारा किया गया. बैठक में प्रभात रंजन तिवारी, रंजीत पांडेय, चंदन कुमार व महेंद्र सिंह आदि शामिल थे.