Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

जिला परिषद सदस्य प्रियंका कुमारी के प्रयास से टेमराबार के घरों में छह माह बाद हुआ उजाला, नया ट्रांसफार्मर लगने से ग्रामीण खुश

लातेहार : बालूमाथ पूर्वी जिला परिषद सदस्य प्रियंका कुमारी के प्रयास से जिले के बालूमाथ प्रखंड के बसिया पंचायत अंतर्गत टेमराबार टोला में मंगलवार को नया ट्रांसफार्मर लगाया गया है। जिसका उद्घाटन जिला परिषद सदस्य प्रियंका कुमारी सहित भाजपा मंडल अध्यक्ष लक्ष्मण कुशवाहा, एससी मोर्चा जिला उपाध्यक्ष अमित कुमार, बसिया मुखिया विमला देवी ने संयुक्त रूप से किया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आपको बता दें कि टेमराबार टोला में ट्रांसफार्मर खराब होने के कारण वहां के ग्रामीण पिछले 6 महीने से अंधेरे में रहने को मजबूर थे। बालूमाथ रेलवे कोल साइडिंग के बगल में रहने के बावजूद वे बिना बिजली के रह रहे थे। इसी बीच ग्रामीणों ने बालूमाथ पूर्वी जिला परिषद सदस्य प्रियंका कुमारी को ज्ञापन सौंपकर अपनी समस्याओं से अवगत कराया। जिला परिषद सदस्य ने ग्रामीणों की समस्या को गंभीरता से लिया और संबंधित बिजली विभाग के अधिकारियों से बात कर नया ट्रांसफार्मर लगवाया।

इस अवसर पर ग्रामीणों ने सभी अतिथियों को लड्डू खिलाकर धन्यवाद ज्ञापित किया। मौके पर मंडल महामंत्री विजय यादव, बसंत कुशवाहा, प्रवीण साव, शिव शुक्ला, प्रकाश प्रजापति, प्रेम शुक्ला, लाधु गंझू, महेश गंझू, दिनेश गंझू, सरयू गंझू, दृत्पाल गंझू, सुका उरावं समेत काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।