Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार में नयी इबादत लिख गये डीएमओ आनंद कुमार, लक्ष्य से भी अधिक राजस्व वसूलकर सरकार को पहुंचाया लाभ

लातेहार : जिले में अधिकारियों की पदस्थापना एवं स्थांततरण एक प्रक्रिया है,लेकिन कुछ अधिकारियों के पदस्थापना से सरकार के उदेश्यों को मुकाम मिलता है। ऐसे ही अधिकारी पांच वर्ष पूर्व लातेहार खनन विभाग में पदस्थापित हुए थे डीएमओ के पद पर आनंद कुमार। आनंद कुमार अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में खनन विभाग को एक नई उंचाई देने में कामयाब रहे एवं खनन कार्य में एक नयी इबादत लिख गये।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

डीएमओ आनंद कुमार अपने पांच वर्ष के कार्यकाल में सरकार के द्वारा निर्धारित राजस्व वसूली को नयी उंचाई प्रदान की। डीएमओ की कार्यकुशलता के कारण सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य से भी अधिक राजस्व की प्राप्ति हुई। राजस्व प्राप्ति को लेकर वित्तीय वर्ष 2020-21 में निर्धारित लक्ष्य 101 करोड़ 27 लाख के मिले लक्ष्य के अनरूप 123 करोड़ 91 लाख रूपये की राजस्व वसूली की जो निर्धारित राजस्व प्राप्ति के 122 प्रतिशत है। इसी प्रकार 2ं021-22 निर्धारित 223 करोड़ लक्ष्य के अनुरूप 224 करोड़ एक सौ प्रतिशत से भी अधिक राजस्व की वसूली की थी। डीएमओ की कार्य कुशलता के कारण 2022-23 में भी निर्धारित लक्ष्य की वसूली की गयी थी।

डीएमओ आनंद कुमार की कार्यकुशलता के कारण डीएमएफटी मद में विभाग को प्रत्येक वर्ष राजस्व प्राप्ति अधिक होती गयी। डीएमओ आनंद कुमार वर्ष 2019 में लातेहार जिला के खनन पदाधिकारी नियुक्त हुए थे। नियुक्त होने के बाद उन्होंने सबसे पहले विभाग के राजस्व को कैसे बढ़ाया जाये इस सोच को लेकर र्का करना आरंभ किया, जिसका प्रतिफल निकाला की वर्ष 2019-20 में डीएमएपफटी से कुल प्राप्त राशि 15 करोड़, 25 लाख, 41 हजार, 253 रूपये की विभाग को राजस्व प्राप्त हुआ, वही 2020-21 में यह राशि 34 करोड़ पहुंच गयी। वर्ष 2021-22 में 68 करोड़ 17 लाख,939 रूपये जबकि वर्ष 2022-23 में 86 करोड़, 70 लाख, 38 हजार प्राप्त हुई। वही वर्ष 2023- अबतक 83 करोड़, 29 लाख, 73 हजार 216 रूपये प्राप्त हो चूके हैं।

अपने पदस्थापना काल से जिला खनन पदाधिकारी अवैध खनन,परिवहन एवं भंडारण पर पूरी तरह सख्त रहे। जिसके कारण जिले में अवैध कारोबारियों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की गयी। डीएमओ आनंद कुमार ने अवैध खनन, भंडारण एवं परिवहन को 2019 से अबतक अवैध खनन में संलिप्त 557 वाहनों को जब्त किया। वहीं 247 अवैध खनन कारोबािरयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर करवायी। इसके अलावे राजसात वाहनों की निलामी कर सरकार के राजस्व को बढ़ाया।

जिला खनन पदाधिकारी लातेहार खनन विभाग को एक नई मुकाम दिलाने में कामयाब रहे, डीएमओ के कामयाबी के मुख्य कारण यह था कि डीएमओ हमेशा आमजनों से जुड़े रहे एवं नियम विरूद्ध कार्य करने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर ग्रामीणों का दिल जीत लिया। जिसके कारण अवैध खनन, परिवहन एवं भंडारण को लेकर ग्रामीणों के द्वारा उन्हें सूचना मिल जाती थी एवं उन सूचना के आधार पर अवैध कारोबारियों के खिलाफ निधड़क कार्रवाई करते रहें। डीएमओ आनंद कुमार कभी भी नियम विरूद्ध कार्य करने वालों को पनाह नहीं दिया। अपने कार्यकाल के दौरान अवैध खनन भंडारण एवं परिवहन के खिलाफ डीएमओ आनंद कुमार लगातार छापेमारी करते रहे।

जिला खनन पदाधिकारी आनंद कुमार के पद स्थापना के समय जिले में महत्व 36 बालू घाट ही स्वीकृत थे, जहां से बालू का उठा हुआ करता था जिले में 36 बालू घाट होने के कारण आम जनों एवं सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के संचालन में काफी दिकते आ रही थी जिसको देखते हुए डीएमओ आनंद कुमार ने स्थलीय निरीक्षण कर 36 और बालू घाटों को स्वीकृति प्रदान कार्रवाई। इसके बाद जिले में कुल 72 बालू घाटों से बालू का उठाव आरंभ हो गया एवं विकास को नयी गति मिली।

जिले में अवैध खनन कारोबार रोकने एवं विकास योजनाओं को गति देने के उद्देश्य से जिला खनन पदाधिकारी आनंद कुमार ने जिले में 14 खनन पट्टों को स्वीकृति प्रदान की थी। जिससे सरकार द्वारा संचालित विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में गति मिलने लगी थी। वही आमजनों को भी सुलभता पूर्वक गृह निर्माण के लिए पत्थर चिप्स मिल जा रहे थे।

Latehar Latest News Today