Breaking :
||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा||चतरा के पांच अफीम तस्कर हजारीबाग में गिरफ्तार||झारखंड में 4 IPS अफसरों का तबादला, लातेहार SP के पद पर बने रहेंगे अंजनी अंजन, 27 IPS अधिकारियों का मूवमेंट ऑडर जारी||बालूमाथ के चोरझरिया घाटी में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार की मौत||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार युवक की मौत समेत बालूमाथ की चार खबरें||झारखंड: आग लगने की सूचना पर ट्रेन से कूदे यात्री, झाझा-आसनसोल यात्रियों के ऊपर से गुजरी, 12 की मौत||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पहुंचीं रांची, सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में हुईं शामिल, कहा- दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की राह पर भारत||झारखंड में बिजली हुई महंगी, नयी दरें एक मार्च से होंगी लागू||झारखंड में बड़े पैमाने पर BDO की ट्रांसफर-पोस्टिंग, यहां देखें पूरी लिस्ट
Friday, March 1, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार जिला परिषद उपाध्यक्ष ने बालूमाथ के हेमपुर स्वास्थ्य केंद्र का किया निरीक्षण, गायब मिले डॉक्टर

लातेहार : शुक्रवार को बालूमाथ पश्चिमी जिला परिषद सदस्य सह जिला परिषद उपाध्यक्ष अनिता देवी ने बालूमाथ प्रखंड के हेमपुर गांव स्थित हेल्थ वेलनेस सेंटर का निरीक्षण किया। इस दौरान केंद्र पर एएनएम के अलावा कोई डॉक्टर या एमपीडब्ल्यू मौजूद नहीं मिला।

इस संबंध में जिप उपाध्यक्ष अनीता देवी ने बताया कि उन्हें ग्रामीणों से लगातार शिकायत मिल रही थी कि पिछले कई महीनों से केंद्र में चिकित्सक तैनात रहने के बावजूद वह चिकित्सा केंद्र पर नहीं बैठते हैं। जिससे ग्रामीणों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीण मरीजों का आर्थिक शोषण करने वाले झोलाछाप डॉक्टरों से इलाज कराने को मजबूर हो गये हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस केंद्र में आयुष चिकित्सक के रूप में डॉ रवि रंजन की पदस्थापना की गयी है। परन्तु अपनी मनमानी के कारण वह सदैव केन्द्र में नहीं रहते। निरीक्षण के दौरान केंद्र में लाखों रुपये की सरकारी दवाएं तो मिलीं, लेकिन डॉक्टर मौजूद नहीं थे। इसके कारण ग्रामीणों के बीच दवा का वितरण नहीं हो पा रहा है। समय पर दवाओं का वितरण नहीं होने से दवाओं को एक्सपायर होने से कोई नहीं रोक पायेगा। रोस्टर के अनुसार क्षेत्र के आयुष चिकित्सकों को एक दिन बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में योगदान देना है, लेकिन संबंधित चिकित्सकों द्वारा रोस्टर को भी नहीं माना जा रहा है। जिसके कारण बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र के मरीजों का समुचित इलाज नहीं हो पा रहा है। डॉक्टरों की ऐसी लापरवाही और मनमानी से चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गयी है।

जिप उपाध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार के साथ-साथ विभाग से जुड़े अधिकारियों को भी इसकी जानकारी देकर ऐसे लापरवाह डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की मांग की जायेगी। इस दौरान लातेहार जिला परिषद उपाध्यक्ष अनीता देवी ने बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का भी औचक निरीक्षण किया। जहां मौके पर डॉ. संजय सिद्धार्थ, डॉ. अलीशा टोप्पो समेत अन्य कर्मी मिले। उन्होंने कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिये तथा चिकित्सा संबंधी सभी कार्यों को मानवीय एवं सक्रिय रूप से करने को कहा।

Balumath Latehar Latest News