Breaking :
||स्पेनिश महिला पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपियों को भेजा गया जेल, पीड़ित दंपति का कोर्ट में बयान दर्ज||लातेहार: मनिका में संदेहास्पद स्थिति में पेड़ से लटका मिला युवक का शव||झारखंड में सात IAS अफसरों का टांस्फर-पोस्टिंग, रमेश घोलप बने चतरा डीसी||गढ़वा जाने के क्रम में लातेहार पहुंचे सीएम चम्पाई सोरेन, कहा- बैद्यनाथ राम को मंत्री बनाने पर फैसला जल्द||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार
Sunday, March 3, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में आयोजित दिव्यांग शिविर में भोजन को लेकर अव्यवस्था का आलम, भेड़-बकरियों की तरह खाना खाते नजर आये ग्रामीण व छात्र

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बुधवार को बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय स्थित बुनियादी विद्यालय परिसर में आयोजित दिव्यांग शिविर में भोजन को लेकर अव्यवस्था का आलम देखा गया। इस कार्यक्रम में जिस तरह से ग्रामीण व छात्र भेड़-बकरियों की तरह खाना खाते नजर आये वह आयोजनकर्ता की लापरवाही को उजागर करता है।

इस शिविर में मुख्य रूप से बालूमाथ शिक्षा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बालूमाथ, बारियातू एवं हेरहंज प्रखंड क्षेत्र से सैकड़ों अभिभावक, छात्र एवं शिक्षक शामिल हुए। आयोजन समिति की ओर से उनके लिए भोजन की व्यवस्था की गयी थी। लेकिन उनके लिए न बैठने की व्यवस्था की गयी और न ही बैठकर खाने की। जिसके कारण अफरा-तफरी की स्थिति बनी रही।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

आयोजनकर्ता द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों से आये छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों को हल्की बारिश एवं फुहारों के बीच जमीन पर ही बैठाकर खाने के लिए भोजन दिया गया। ग्रामीण व छात्र खुले मैदान में ही आसमान के नीचे भेड़-बकरियों की तरह खाना खाते नजर आये। इस दौरान अव्यवस्था की काफी कमी दिखी और आयोजक इधर-उधर घूमते नजर आये।

इस संबंध में जब प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी सह प्रखंड कल्याण पदाधिकारी निर्मला लता से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस कार्य में लगे कर्मियों की गलतियां उजागर हो चुकी है। अगली बार से ऐसी शिकायत नहीं मिलेगी और इस कार्य में लगे कर्मियों से स्पष्टीकरण मांगा जायेगा।