Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
गारूपलामू प्रमंडललातेहार

सिविक एक्शन प्रोग्राम के तहत सीआरपीएफ 214 बटालियन ने छात्राओं को बांटी साइकिल

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : जिले के अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण प्रत्येक वर्ष 214 वी वाहिनी के इलाके में पड़ने वाले गाँवों में सिवीक एक्शन प्रोग्राम के द्वारा स्थानिय जनता के आवश्यकता के आधार पर कुछ न कुछ सामान वितरीत करते है। पिछले वर्ष जैसा इस बार भी नक्सल प्रभावित गांव सुरकुमी, मिरचाइयॉ, मारोमार, हेनार गॉवो में घर-घर जाकर मच्छरदानी, कम्बल, रेडियो, सोलर लाइट, बर्तन वितरण किया जा चूका है। सोमवार को मारोमार सीआरपीएफ कैंप में फिर से सिविक एक्शन कार्यक्रम के तहत छात्राओं के बीच साईकल वितरण किया गया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित सीओ के.डी. जोशी (कमांडेण्ट 214 / वाहिनी) नें सम्बोधित करते हुए कहा यह क्षेत्र नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा का अभाव है। मारोमार, सुरकुमी, जैसे क्षेत्र से उच्च शिक्षा के लिए प्रतिदिन 10 किमी सफर तय कर गारू प्रखंड मुख्यालय तक जाना पड़ता है। यहाँ के भौगोलिक स्थिति के अंतर्गत पहाडी, जंगल एवं अत्यन्त दुर्गम रास्ते है, इस कारण से सुरकुमी ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले विद्यार्थियों का शिक्षा ग्रहण करना इतना आसान नहीं है।

इन छात्राओं के बीच किया गया साईकल वितरण

शिविर के माध्यम से मंजू कुमारी, गुड्डी कुमारी कक्षा 9वीं, संगीता कुमारी,कुंती कुमारी, जैतरा कुमारी कक्षा 11वीं, बसंती कुमारी, जिवंती कुमारी, अरुनीमा कुमारी कक्षा 12वीं के बीच साइकिल का वितरण किया गया है। सीआरपीएफ की इस कार्य की सराहना करते हुए ग्रामीणों नें कहा कि आये दिन नक्सलियों का भय बना रहता था लेकिन सीआरपीएफ कैंप लगने के बाद वे लोग भयमुक्त वातावरण में जीवन यापन कर पा रहे हैं।शिविर के मौके पर के.डी. जोशी (कमांडेण्ट 214 / वाहिनी), मनिवासगन एम. (सहायक कमानडेंट डी / 214 वाहिनी), एसएचओ राजीव कुमार भगत, उत्क्रमित उच्च विद्यालय, गारु प्रतिनिधि अर्णव सर एवं लाभार्थी विद्यार्थी एवं अभिभावक मौजूद थे।

सीआरपीएफ सिविक एक्शन प्रोग्राम