Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
पलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: पुलिस अधीक्षक कार्यालय में अपराध गोष्ठी का आयोजन, एसपी ने की समीक्षा, दिये कई आवश्यक दिशा निर्देश

पलामू : बुधवार को पुलिस अधीक्षक रिष्मा रमेशन द्वारा अपने कार्यालय कक्ष में अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया। अपराध गोष्ठी के दौरान पिछले माह में घटित सभी महत्वपूर्ण अपराधों की समीक्षा की गयी।

साथ ही पुलिस अधीक्षक द्वारा थानावार वारंट के निष्पादन, कुर्की, गिरफ्तारी एवं कांडों के निष्पादन से संबंधित की गयी कार्रवाई की समीक्षा की गयी। पिछले माह में हत्या, लूट, दुष्कर्म, पॉक्सो आदि मामलों में गिरफ्तारी एवं उद्भेदन के संबंध में क्या प्रयास किये गये, इसकी गहन समीक्षा की गयी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उग्रवादियों के खिलाफ कार्रवाई के उद्देश्य से मनातू, नावा बाजार, छतरपुर नौडीहा और हरिहरगंज में विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया गया।

जिन हत्या के मामलों का अब तक उद्भेदन नहीं हुआ है, उसके संबंध में संबंधित अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं थाना प्रभारी को विशेष निर्देश दिये गये।

सभी जोन के पुलिस इंस्पेक्टरों को यूडी केस के निष्पादन की दिशा में कार्रवाई करने तथा जो केस काफी पुराने हैं, उनकी समीक्षा करने का भी निर्देश दिया गया।

ऐसे मामले जिनमें आरोपी दूर-दराज के राज्यों में छुपे हुए हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस महानिरीक्षक से अनुमति ली गयी और संबंधित राज्य में जाकर तत्काल कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।

कांड के अनुसंधान एवं निष्पादन में अच्छा कार्य करने वाले थाना प्रभारियों एवं पदाधिकारियों को सुसेवांक से पुरस्कृत करने का आदेश दिया गया तथा कार्य में लापरवाही बरतने वालों को निन्दा से दंडित करने का आदेश दिया गया।

इस गोष्ठी में सभी डीएसपी, एसडीपीओ, पुलिस निरीक्षक व थाना प्रभारी मौजूद थे।

Palamu Latest News today