Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने मनायी बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की जयंती

बेहतर समाज निर्माण के मूल आधार हैं बाबा साहब अंबेडकर : सेंटर हेड

लातेहार : बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की जयंती पर पूरे जिले में कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। इसी क्रम में शुक्रवार को जिला मुख्यालय के गायत्री नगर स्थित किड्जी प्री स्कूल में भी बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर की जयंती मनायी गयी। बच्चों ने बाबा साहेब के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

इस मौके पर किड्जी प्री स्कूल के सेंटर हेड नवीन कुमार मिश्रा ने बाबा साहब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हम सभी को इनके अथक संघर्ष, दृढ़ निश्चय और दूरदृष्टि से प्रेरणा लेनी चाहिए। जब हमारा समाज कुछ चंद लोगों के चंगुल में कैद था, वैसे विपरीत परिस्थितियों में भी समाज के निचले तबकों के संपूर्ण स्वतंत्रता के लिए बाबा साहब ने अथक संघर्ष किया। परिणामस्वरूप आज लोग अपनी आवाज को बुलंदी के साथ बोल पाते हैं।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उन्होंने कहा कि जब एक ओर हमारे देश में ब्रिटिश हुकूमत कायम थी, वहीं दूसरी ओर शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे संसाधनों पर कुछ विशेष वर्गों का एकाधिकार था। बाबा साहेब ने मुश्किलों में जीवनयापन करते हुए 32 से ज्यादा डिग्रियां हासिल कर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया था। हम सभी को इनके संघर्ष और विचारों को अपने जीवन में आत्मसात करना चाहिए तभी एक बेहतर समृद्ध और विकसित भारत का निमार्ण संभव है ।

इस अवसर पर स्कूल परिसर में भाषण और पेंटिंग प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया, जिसमें छोटे-छोटे बच्चों ने उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया।

मौके पर शिक्षिका पूजा कुमारी, अलका शर्मा, निहारिका सिंह, निधि कुमारी, अटेंडेंट सुमिता, सुचिता, आरती, गार्ड रोजलिन व मेड पूनम समेत कई अभिभावक उपस्थित थे।

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=pfbid0dGrBi7YfBAp2783Bo6SVmMHNEPiXYi8TByys4L2XRvbaCpaZBH3B34DgoMijc9xYl&id=100057428178737&mibextid=Nif5oz