Breaking :
||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा||चतरा के पांच अफीम तस्कर हजारीबाग में गिरफ्तार||झारखंड में 4 IPS अफसरों का तबादला, लातेहार SP के पद पर बने रहेंगे अंजनी अंजन, 27 IPS अधिकारियों का मूवमेंट ऑडर जारी||बालूमाथ के चोरझरिया घाटी में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार की मौत||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार युवक की मौत समेत बालूमाथ की चार खबरें||झारखंड: आग लगने की सूचना पर ट्रेन से कूदे यात्री, झाझा-आसनसोल यात्रियों के ऊपर से गुजरी, 12 की मौत||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पहुंचीं रांची, सेंट्रल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में हुईं शामिल, कहा- दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की राह पर भारत||झारखंड में बिजली हुई महंगी, नयी दरें एक मार्च से होंगी लागू||झारखंड में बड़े पैमाने पर BDO की ट्रांसफर-पोस्टिंग, यहां देखें पूरी लिस्ट
Friday, March 1, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: CCL ने आधा दर्जन प्रभावितों का कराया मोतियाबिंद का ऑपरेशन, दिया चश्मा

लातेहार : बालूमाथ प्रखंड में संचालित सेंट्रल कोल फील्ड मगध लिमिटेड के संघमित्रा क्षेत्र के चमातु स्थित मगध परियोजना गुणवत्ता कार्यालय में सेंट्रल कोलफील्ड लिमिटेड द्वारा मोतियाबिंद जांच शिविर का आयोजन कर स्थानीय विस्थापित प्रभावित लोगों के लिए विशेष जांच शिविर का आयोजन कर आखों की निःशुल्क जांच की गयी थी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस शिविर में रांची के गांधीनगर अस्पताल से आये नेत्र चिकित्सकों द्वारा विस्थापित ग्रामीण राम लखन साव, जागेश्वर साव, फुलवा देवी, कैल यादव, रामेश्वर साव, सुगो देवी के आंखों की जांच किया था। जिनमें मोतियाबिंद का लक्षण पाया गया था। सभी प्रभावितों को रांची स्थित गांधीनगर अस्पताल बुलाकर नि:शुल्क ऑपरेशन किया गया।

वापस लौटने पर चमातू कार्यालय बुलाकर उन्हें मगध परियोजना के महाप्रबंधक निपेंद्र नाथ एवं परियोजना पदाधिकारी सदाला सत्यनारायणा समेत अन्य कर्मचारियों की उपस्थिति में चश्मा देकर उनका हाल जाना।

Balumath Latehar Latest News