Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने केंद्रीय कोयला मंत्री व सचिव को लिखा पत्र, ग्रामीणों के साथ हो रहे अन्याय का जिक्र

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार आदि पर स्थानीय को प्राथमिकता देने का किया आग्रह

लातेहार : भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने केंद्रीय कोयला मंत्री भारत सरकार और केंद्रीय कोयला सचिव को 11 सूत्री मांगों को लेकर पत्र लिखकर बालूमाथ प्रखंड के गणेशपुर पंचायत के आरा चमातू ग्रामवासियों के साथ हो रहे अन्याय से अवगत कराया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रतुल ने पत्र के माध्यम से लिखा है कि सीसीएल के कुछ असंवेदनशील पदाधिकारी एवं कुछ भ्रष्ट अधिकारी मिलीभगत कर आरा चमातू के भू-रैयत और विस्थापितों के साथ अन्याय कर रहे हैं। अन्याय की सीमा इतनी बढ़ गई है कि उनके वाजिब मांगों पर उन्हें डराने के लिए रैयतों को ही जेल तक भेजा गया।

प्रतुल शाहदेव ने शिक्षा, स्वास्थ्य, ट्रांसपोर्टिंग से हो रहे दुर्घटना, प्रदूषण से हो रहे नुकसान, स्थानीय लोगों को रोजगार, जलस्तर घटने से पेयजल की हो रही समस्या,ग्रामीणों को धमकाना जेल भेजना, बंदोबस्त जमीन पर बिना मुआवजा दिए कब्जा करना, नौकरी देने के नाम पर बेवजह शर्तो को थोपना,मुआवजा की राशि को बढ़ाने समेत कई मांग केंद्रीय मंत्री से की है।

बता दे कि सीसीएल की मनमानी के खिलाफ ग्रामीणों की बैठक में प्रतुल चमातु गांव ही पहुँचे थे जहाँ ग्रामीणों ने हो रही समस्याओं से प्रतुल को अवगत कराया था। प्रतुल शाहदेव ने ग्रामीणों को आश्वस्त कराया था कि उनकी मांगों को केंद्रीय मंत्री के पास पहुँचाया जाएगा।

प्रतुल ने कहा कि यदि इसके बाद भी आवश्यकता पड़ेगी तो केंद्रीय मंत्री से मिलकर उन्हें सभी बातों से अवगत कराया जायेगा। प्रतुल ने पत्र की कॉपी केंद्रीय कोयला राज्यमंत्री, कोल इंडिया के चेयरमैन और सीसीएल के चेयरमैन को भी भेजी है।